गोरखनाथ मंदिर पर हुए हमले का खूंखार आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट का लिंक हो सकता है। क्योंकि मुर्तजा के आतंकी संगठनों से संपर्क की जांच के बीच एक ऐसा वीडियो सामने आया है, जिसमें ISIS के आतंकी के हाथ में वैसा ही हथियार दिख रहा है, जैसा मुर्तजा ने हाथ में था। 25 मार्च को आईएस इंडिया नाम के संगठन की ओर से जारी किए गए इस वीडियो के बाद इस बात की संभावना बढ़ गई है कि मुर्तजा दुनियाभर में खौफ का पर्याय बन चुके ISIS का मोहरा है।

यह भी पढ़ें : लापरवाह कर्मचारियों पर अब गिरेगी गाज, सिक्किम सरकार बना रही नॉन परफोर्मिंग विभाग

खबर है कि 4 मिनट का यह वीडियो 25 मार्च को टेलिग्राम पर जारी किया गया था। इसमें मौजूद नकाबपोश आतंकी भारत में चार स्लीपर सेल होने का दावा करते हैं। वीडियो की भाषा बेहद भड़काऊ है। इसमें देशी हथियारों को दिखाय गया है, जिसमें वह गंडासा या बांकी भी शामिल है, जिसे हाथ में लेकर मुर्तजा ने गोरखनाथ मंदिर पर हमला किया था। 

अब सवाल उठ रहा है कि क्या इस वीडियो का गोरखपुर हमले से कोई लिंक है? क्या इस वीडियो से ISIS ने पहले ही हमले का इशारा कर दिया था? क्या मुर्तजा का इस वीडियो से सीधा संबंध है या उसने इस वीडियो को देखने के बाद ही बांकी को हमले के लिए हथियार चुना? इन सवालों का जवाब अब जांच के बाद पता चलेगा, लेकिन फिलहाल यह वीडियो चर्चा का विषय बना हुआ है। हालांकि, यूपी पुलिस पहले ही कह चुकी है कि जांच में जो दस्तावेज मिले हैं वे बेहद सनसनीखेज हैं।

यह भी पढ़ें : गांजा की सप्लाई में तगड़े माहिर हैं नागालैंड के तस्कर, जानिए कैसे पहुंचाते हैं बिहार

खबर है कि मुर्तजा के पास मिले लैपटॉप में विवादित इस्लामिक उपदेशक जाकिर नाइक के भड़काऊ भाषण वाले वीडियो मिले हैं। बताया जा रहा है कि इसमें इस्लामिक स्टेट के भी कई वीडियो मिले हैं, जिन्हें हमले से पहले मुर्तजा ने कई बार देखा था। अभी यह साफ नहीं है कि टेलीग्राम पर जो वीडियो जारी किया गया था वह भी मुर्तजा के लैपटॉप में था या नहीं।