गूगल और ऐपल ने अपने स्टोर से 8 लाख से ज्यादा खतरनाक ऐप्स को बैन कर दिया है। खबर है कि 2021 की पहली छमाही में गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर से 8,13,000 से ज़्यादा ऐप्स को हटा दिया गया था। इन ऐप्स को डिलीट करने से पहले गूगल प्ले स्टोर से 9 अरब बार डाउनलोड किया जा चुका था जो कि खतरे की घंटी है।

अमेरिका के कैलिफोर्निया के पिक्सालेट के अनुसार Apple के ऐप स्टोर से हटाए जाने से पहले इन ऐप्स के 2.1 करोड़ कस्टमर रिव्यूज और रेटिंग्स थे। इसलिए ऐप स्टोर से हटाए जाने के बावजूद लाखों यूजर्स के स्मार्टफोन पर ऐप्स मौजूद हैं।गूगल प्ले स्टोर से 86 फीसदी और ऐपल ऐप स्टोर से 89 फीसदी मोबाइल ऐप्स ने 12 साल और उससे कम उम्र के बच्चों को टारगेट किया है। यह भी पाया गया कि 25 फीसदी प्ले स्टोर ऐप्स और 59 फीसदी ऐप स्टोर ऐप्स में कोई प्राइवेसी पॉलिसी नहीं थी।बताया गया है कि 26 फीसदी ऐप्स रूसी गूगल प्ले स्टोर से हटा दिए गए थे और 60 फीसदी ऐप्स चीन के ऐप स्टोर पर लिस्टेड थे। चीनी ऐप स्टोर पर कोई प्राइवेसी पॉलिसी नहीं है।