केंद्रीय बंदरगाह जहाज और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल के साथ भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल मार्ग से गुवाहाटी के पांडु बंदरगाह पर पहला मालवाहक जहाज 'एमवी लाल बहादुर शास्त्री' पहुंच गया है।

8 लोग और लोग खड़े हैं की फ़ोटो हो सकती है

यह भी पढ़ें : रूस-यूक्रेन छोड़ो, भारतीयों को देश के ही इस राज्य में जाने के लिए लेना पड़ता है वीजा, जानिए क्यों

यह जहाज पटना से 200 मीट्रिक टन खाद्यान्न लेकर गंगा और ब्रह्मपुत्र नदियों से 2350 किलोमीटर का सफर करते हुए गुवाहाटी पहुंचा है जिसका स्वागत खुद मुख्यमंत्री हिमंता बिस्व सरमा ने किया।

जलाशय की फ़ोटो हो सकती है

इसको लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत-बांग्लादेश प्रोटोकॉल सड़क के माध्यम से मालवाहक जहाजों के आगमन ने उत्तर-पूर्व में आर्थिक विकास में एक नई यात्रा की शुरुआत को चिह्नित किया है। 

9 लोग, लोग खड़े हैं, अंदर और वह टेक्स्ट जिसमें 'Cargo Guwahati Vessel (River from Patna imanta 'ble Chief Minister, Assam Chief Guest Brahmaputra) (River Ganga) Biswa Sarma Honour da on Mir ar Ho 屋 wal nd Ayush' लिखा है की फ़ोटो हो सकती है

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुझे यकीन है कि आने वाले दिनों में प्रधानमंत्री श्रीनरेंद्र मोदी और माननीय केंद्रीय बंदरगाह, जहाज और जलमार्ग मंत्री सर्बानंद सोनोवाल के दूरदर्शी नेतृत्व में असम जलमार्ग क्षेत्र को और अधिक महत्व मिलेगा।

12 लोग, लोग खड़े हैं और वह टेक्स्ट जिसमें 'Reception pilot Cargo Vessel from Patna (River Ganga) to Pandu, Guwahati (River Brahmaputra) .h. Chief Dr Himanta Biswa Sarma Hon'bl Assam ighi Shri Ministry bananda Sonowal UnionM hipping &Waterways ueen Guwahati 11:00hr Authority' लिखा है की फ़ोटो हो सकती है

यह भी पढ़ें : अरुणाचल में है दुनिया का सबसे ऊंचा प्राकृतिक शिवलिंग, आकार देखकर दंग रह जाते हैं लोग

इस मौके पर सांसद श्रीक़ुइन ओझा के साथ आंतरिक जल परिवहन विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।