मध्यप्रदेश में चार मानसूनी सिस्टमों के सक्रिय होने के चलते प्रदेश के अनेक स्थानों पर बारिश हो रही है। इस बीच कुछ स्थानों पर तेज तो कहीं मध्यम वर्षा हुयी। राजधानी भोपाल में भी धूपछांव के बीच रुक रुक का वर्षा का सिलसिला जारी है। 

मौसम विज्ञान केन्द्र भोपाल के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ अजय शुक्ला ने बताया कि छतरपुर के आसपास एक अति कम दबाव का क्षेत्र सक्रिय है तथा दक्षिण गुजरात में ऊपरी हवाओं का चक्रवात बना है। इसके अलावा दो द्रोणिका भी प्रदेश के ऊपर से गुजर रही हैं, जिसके प्रभाव में प्रदेश भर में अच्छी बारिश का दौर लगातार जारी है। 

इस बीच कहीं मध्यम तो कहीं तेज वर्षा दर्ज की गयी है। वैज्ञानिक डॉ शुक्ला ने बताया कि इन मानसूनी सिस्टमों का प्रभाव कल तक प्रदेश में बना रहने का अनुमान है, जिसके कारण अच्छी बारिश की उम्मीद की जा रही है। उन्होंने बताया कि छतरपुर के आसपास बना सिस्टम कल ग्वालियर की तरफ शिफ्ट हो सकता है, जिससे ग्वालियर चंबल संभाग में भी अच्छी बारिश की संभावना है।

उन्होंने बताया कि 17 जून से एक और सिस्टम बंगाल की खाडी में बन रहा है, जिससे उम्मीद जतायी जा रही है कि इस बार सितंबर के आखिर तक प्रदेश में अच्छी बारिश का सिलसिला जारी रह सकता है। उन्होंने बताया कि अगले चौबीस घंटों के दौरान रीवा, सतना, नरसिंहपुर, सागर, दतिया, भिंड और छतरपुर जिलों में कहीं कहीं भारी से अति भारी वर्षा की संभावना है। वहीं, सीधी, सिंगरौली, डिंडोरी, जबलपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, पन्ना, दमोह, टीकमगढ़, निवाड़ी, शिवपुरी, मुरैना, श्योपुर, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, होशंगाबाद, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर, आगरमालवा, बैतूल और हरदा जिलों में कहीं कहीं भारी बारिश की संभावना है।

शेष स्थानों पर गरज चमक की स्थिति बन सकती है। राजधानी भोपाल में कल रात से जारी बारिश का क्रम आज भी रुक रुक कर जारी रहा। इस दौरान बीच बीच में धूप भी खिली। अगले चौबीस घंटों के दौरान यहां वर्षा या गरज चमक की स्थिति बनने की संभावना है।