सोना खरीदने का यह सबसे शानदार मौका है क्योंकि अब रिकॉर्ड लेवल से इसकी कीमत 9000 रूपये कम हो गई है। गोल्ड में बड़े निवेशकों के निवेश से इसकी कीमत बढ़ रही है लेकिन इसकी फिजिकल डिमांड कम है। शादियों और त्योहारी सीजन के बाद गोल्ड के दाम अभी ज्यादा नहीं बढ़ पा रहे हैं।  आज एमसीएक्स में गोल्ड के दाम 0.23 फीसदी की तेजी के साथ 47,108 प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। वहीं चांदी 0.27 फीसदी बढ़कर 69,809 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंची। अगस्त, 2020 में सोने के दाम 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड हाई स्तर पर पहुंच गए थे। लिहाजा अभी भी यह अपने उच्चतम स्तर से 9,100 रुपये कम है। वहीं चांदी भी अपने रिकार्ड लेवल से 10,100 रुपये कम है।


भारत में कोरोना लहर की दूसरी लहर की वजह से लॉकडाउन और स्थायी स्तर पर पाबंदियां लगाई जा रही हैं। ऐसे में आर्थिक गतिविधियों के धीमा होने का खतरा पैदा हो गया है। आर्थिक अनिश्चितता के इस दौर में गोल्ड में निवेश बढ़ जाता है। क्योंकि लोग इसे सुरक्षित निवेश मानते हैं। इसलिए अगर आप गोल्ड खरीदना चाहते हैं तो अभी मौका है। आने वाले दिनों में भले ही इसमें कस्टमर मांग बढ़ते भले न दिखे। या फिर ज्वैलरी या रिटेल खरीदारी न बढ़े। लेकिन बड़े निवेशक इसमें पैसा झोंक सकते हैं। इससे इनकी कीमतें बढ़ सकती हैं।फिलहाल घरेलू मार्केट में गोल्ड में जो तेजी देखी जा रही है वह डॉलर के मुकाबले रुपये में आई गिरावट के कारण है। साथ ही कोरोना वायरस के नए मामलों में आई तेजी के कारण निवेशक फिर सुरक्षित निवेश विकल्‍प की ओर रुख कर रहे हैं। इससे सोने की कीमतों को समर्थन मिल रहा है। उम्मीद है कि आने वाले दिनों में गोल्ड की कीमतें और बढ़ सकती हैं। हाल में देश में गोल्ड का आयात बढ़ा है। इसलिए यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि आने वाले दिनों में रिटेल खरीदार भी सुरक्षित निवेश के तौर पर इसकी ओर रुख कर सकते हैं। इससे गोल्ड में एक नया हाई देखने को मिल सकता है।