दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal, Chief Minister of Delhi and Convener of Aam Aadmi Party) ने सोमवार को गोवा (Goa) में एक नया चुनाव पूर्व वादा किया। उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी की सरकार बनने पर राज्य के लोगों को अयोध्या में राम मंदिर (Ram Mandir), अजमेर शरीफ (Ajmer sarif) और राज्य में क्रमश: हिंदुओं, मुसलमानों और ईसाइयों के लिए वेलंकन्नी की मुफ्त तीर्थयात्रा कराएगी।

केजरीवाल ने कहा कि लोग तीर्थयात्रा से 'अच्छे स्पंदन' के साथ लौटते हैं और यह योजना, जिसे मूल रूप से दिल्ली में आप सरकार द्वारा लागू किया गया है, अगर पार्टी 2022 के राज्य विधानसभा चुनावों के बाद सत्ता में आती है, तो इसे गोवा में दोहराया जाएगा।

उन्होंने कहा, 'जब हमारी सरकार बनेगी तो हम अयोध्या में मुफ्त तीर्थ यात्रा की सुविधा देंगे और उन्हें श्रीराम के दर्शन कराने में मदद करेंगे। ईसाइयों को वेलंकन्नी की मुफ्त तीर्थयात्रा की सुविधा मिलेगी और मुसलमानों को अजमेर शरीफ की तीर्थयात्रा पर जाने का मौका मिलेगा।'

उन्होंने कहा, 'मुझे बताया गया था कि गोवा में बहुत से लोग शिरडी में आस्था रखते हैं, हम उन्हें शिरडी की भी तीर्थयात्रा की पेशकश करेंगे। केजरीवाल ने कहा कि कुछ साल पहले दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना से 35,000 लोग लाभान्वित हुए थे।'

केजरीवाल ने कहा, 'मैं अयोध्या (हाल ही में) गया था। मैं राम मंदिर गया, रामलला के दर्शन किए, मुझे बहुत अच्छा लगा। मैंने बाहर कदम रखा और मुझे एक विचार आया कि भगवान राम की एक झलक पाकर मुझे जो संतुष्टि मिली है, वह कुछ ऐसा है जो सभी को अनुभव करना चाहिए।'

उन्होंने कहा, 'आज मैंने योजना की घोषणा की है। जब हम सत्ता में आएंगे तो योजना लागू होने के बाद और अधिक तीर्थों को जोड़ेंगे। हर कोई तीर्थयात्रा पर जाना चाहता है। वे अच्छे स्पंदन के साथ वापस आते हैं। यह गोवा के लिए अच्छा होगा।'