गोवा विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को एक और बड़ा झटका लगा है। पार्टी के राज्य कार्यकारी अध्यक्ष अलेक्सो रेजिनाल्डो लोरेंको ने सोमवार को विधानसभा सदस्य के रूप में इस्तीफा दे दिया, जिससे 40 विधानसभा सीटों में पार्टी की संख्या घटकर दो रह गई। इससे पहले कांग्रेस के दो अन्य नेताओं ने भी हाल ही में राज्य में विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था।

अगले साल की शुरुआत में गोवा में विधानसभा चुनाव होने हैं। विशेष रूप से, कांग्रेस ने पिछले सप्ताह आगामी राज्य चुनावों के लिए आठ उम्मीदवारों की अपनी पहली सूची घोषित की थी और इसमें लोरेंको का नाम शामिल था। दक्षिण गोवा जिले में कर्टोरिम विधानसभा क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करने वाले लोरेंको ने सोमवार दोपहर विधानसभा अध्यक्ष के कार्यालय में अपना इस्तीफा सौंप दिया।

उन्होंने कांग्रेस से भी इस्तीफा दे दिया। लोरेंको, जो गोवा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष थे, उन्होंने इस मामले में कोई टिप्पणी भी नहीं दी है। सूत्रों ने कहा कि वह जल्द ही ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली तृणमूल कांग्रेस पार्टी (टीएमसी) में शामिल हो सकते हैं।

इस महीने की शुरुआत में गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री रवि नाइक ने कांग्रेस विधायक पद से इस्तीफा दे दिया था। कुछ महीने पहले पूर्व मुख्यमंत्री लुइजिन्हो फलेरियो ने भी कांग्रेस छोड़ दी थी और टीएमसी में शामिल हो गए थे। उन्होंने गोवा विधानसभा चुनाव लड़ने का फैसला किया है। गौरतलब है कि 2017 के गोवा विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने सदन में 17 सीटें जीती थीं और सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। लेकिन 13 सीटें हासिल करने वाली भाजपा ने राज्य में सरकार बनाने के लिए कुछ क्षेत्रीय दलों और निर्दलीय उम्मीदवारों के साथ गठजोड़ किया। इस वक्त विधानसभा में कांग्रेस के पास सिर्फ दो विधायक हैं।