गोवा कांग्रेस अध्यक्ष गिरीश चोडनकर (Congress leader Girish Chodankar) ने मंगलवार को एक सनसनीखेज आरोप लगाते हुए दावा किया कि राज्य के एक कैबिनेट मंत्री (बिना नाम का उल्लेख किए) एक सेक्स स्कैंडल (sex scandal) में शामिल हैं। गोवा कांग्रेस अध्यक्ष ने आरोप लगाया है कि मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत को इसके बारे में पता है और वे खुद मामले से जुड़े सबूतों को नष्ट करने की कोशिश कर रहे हैं।

पणजी में पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए चोडनकर (Girish Chodankar) ने यह भी कहा कि अगर सावंत ने संबंधित मंत्री को 15 दिनों के भीतर अपने मंत्रिमंडल से बर्खास्त नहीं किया तो कांग्रेस 19 दिसंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) की प्रस्तावित गोवा यात्रा से पहले फोटो, वीडियो और व्हाट्सएप चैट-आधारित साक्ष्यों को सार्वजनिक कर देगी। चोडनकर ने मंगलवार को पणजी में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, गोवा सरकार में एक मंत्री, एक सेक्स स्कैंडल (sex scandal)  में शामिल है। अपने मंत्री पद का दुरुपयोग करके, वह एक महिला का यौन उत्पीडऩ कर रहा है। जब एक मंत्री एक महिला का यौन शोषण करने के लिए अपनी स्थिति और सरकार में उसकी शक्ति का दुरुपयोग करता है, तो यह एक गंभीर मुद्दा है।

उन्होंने कहा, फोटो और वीडियो में मंत्री एक महिला के साथ समझौता करते नजर आ रहे हैं और जिस तरह से वह महिला से बात कर रहे हैं, वह विधायक बनने के लायक भी नजर नहीं आते हैं। ऑडियो में आप सुन सकते हैं कि कैसे यौन शोषण के बाद महिला अपना हक मांगती है और मंत्री कहते हैं मैं मंत्री हूं और मैं कुछ भी कर सकता हूं’। वह उसे गर्भपात के लिए जाने के लिए भी कहते हैं, लेकिन महिला मना कर देती है। चोडनकर (Girish Chodankar) द्वारा अनाम मंत्री के खिलाफ लगाए गए आरोप ऐसे समय पर सामने आए हैं, जब गोवा भाजपा महासचिव दामू नाइक (Goa BJP General Secretary Damu Naik) की ओर से एक दिन पहले ही चोडनकर पर सत्तारूढ़ सरकार के खिलाफ निराधार आरोप लगाने का आरोप लगाया गया था।

चोडनकर ने यह भी आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री (CM Pramod Sawant) अपने मंत्री के खिलाफ मल्टीमीडिया सबूतों से अवगत हैं। उन्होंने दावा किया कि वह इसे नष्ट करने के लिए राज्य पुलिस बल का उपयोग कर रहे हैं। चोडनकर ने कहा, ये मुद्दा मुख्यमंत्री तक पहुंच गया था। सीएम ने वीडियो और ऑडियो देखे हैं। उन्होंने व्हाट्सएप चैट भी देखे हैं। सीएम ने सभी तस्वीरें देखी हैं और मुझे आश्चर्य हुआ कि जब एक मंत्री के बारे में ऐसी सामग्री सीएम के पास आती है, तो वह उसका बचाव करना जारी रखते हैं। सावंत पर सबूतों को नष्ट करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस नेता ने कहा कि मंत्री ने एक पाप किया है और मुख्यमंत्री ने एक बड़ा पाप किया है। चोडनकर ने चेतावनी दी है कि अगर सावंत ने 15 दिनों के भीतर मंत्री को बर्खास्त नहीं किया और अपने कैबिनेट सहयोगी के खिलाफ आपराधिक कार्रवाई नहीं की, तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की गोवा यात्रा से पहले वह सबूत सार्वजनिक कर देंगे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, प्रधानमंत्री के 19 दिसंबर को गोवा पहुंचने से ठीक पहले आपको इस मंत्री को कैबिनेट से बर्खास्त कर देना चाहिए या फिर हम प्रधानमंत्री के गोवा पहुंचने से पहले सबूतों को सार्वजनिक करने के लिए मजबूर हो जाएंगे।