उत्तर प्रदेश के कानपुर में हुए अपहरण के चार महीने बाद पुलिस ने 20 वर्षीय लड़की को मध्य प्रदेश के मुरैना जिले से खोज निकाला है। लड़की ने पुलिस को बताया कि फरवरी में दो लड़कों जितेंद्र गुप्ता और पवन ने उसका अपहरण कर लिया था। दोनों ने उसके साथ दुष्कर्म किया और फिर उसे वेश्यावृत्ति में धकेल दिया।

ये भी पढ़ेंः बुरे समय में किसान ने बैंक से कर्ज लेकर बचाई थी दोस्त की जिंदगी, अब पैसों के लिए भूख हड़ताल पर बैठा


आरोपी लड़कों ने लड़की को मुरैना जिले के मनोज शर्मा नाम के शख्स को 50 हजार रुपये में बेच दिया।पुलिस ने जितेंद्र और पवन के साथ-साथ एक महिला नीता को भी गिरफ्तार किया है। जांच अधिकारी बृज किशोर सिंह ने बताया कि आरोपियों ने पीड़िता के साथ मारपीट भी की थी।

ये भी पढ़ेंः देश में कोरोना संक्रमण से दस और मरीजों की मौत, 8,084 नए मामले आए सामने


9 जून को, लड़की ने किसी तरह अपनी बड़ी बहन से संपर्क किया और अपना पता बताया। जिसके बाद लड़की की बड़ी बहन ने पुलिस को इसकी सूचना दी। जांच अधिकारी पुलिस कर्मियों के साथ मध्य प्रदेश गए और लड़की को ढूंढ लिया, लेकिन आरोपी मनोज भागने में सफल रहा, जिसकी तलाश जारी है।