पणजी। गोवा विधानसभा चुनाव (Goa Assembly Elections) में कांग्रेस पार्टी की करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष गिरीश चोडनकर (Girish Chodankar resigns) ने मंगलवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया। सूत्रों के मुताबिक श्री चोडनकर ने अपना त्यागपत्र कांग्रेस हाईकमान को भेज दिया है। पार्टी ने विधानसभा चुनाव में गोवा फॉरवर्ड पार्टी (जीएफपी) के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ा था, जिसमें कांग्रेस ने 11 सीटें हासिल की जबकि जीएफपी एक सीट पर विजयी हुई है। 

यह भी पढ़ें- भारत उठाएगा रूस-यूक्रेन युद्ध का फायदा! खरीदेगा बेहद सस्ता पेट्रोल डीजल

कांग्रेस 2017 के विधानसभा चुनाव में 17 सीट जीतकर सबसे बड़ी पार्टी होने के बाद भी सरकार बनाने में नाकाम रही थी, हालांकि सत्तारूढ़ भारताय जनता पार्टी सत्ता विरोधी लहर के कारण बहुमत नहीं हासिल कर सकी थी। कांग्रेस विधानसभा में बहुमत प्राप्त करने तथा अपने दम पर सरकार बनाने की उम्मीद कर रही थी, लेकिन भाजपा ने 40 विधानसभा सीटों में से 20 सीटें अपने पास होने का दावा कर सरकार बनाने में कामयाब रही। 

यह भी पढ़ें- रूस बरसा रहा बम, यूक्रेन की यह मांग कोई नहीं कर रहा पूरा; जेलेंस्की ने दुनिया से लगाई गुहार

मतगणना के दिन चोडनकर ने कहा वह हार की नैतिक जिम्मेदारी लेकर इस्तीफा देने के लिए तैयार हैं तथा समय आ गया है कि पार्टी राज्य में नया प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त करे। सुत्रों ने बताया कि संकल्प अमोनकर, एल्विस गोम्स, दिगंबर कामत और एलेक्स सेक्वेरा जैसे नेता अध्यक्ष पद की रेस में सबसे आगे हैं। संकल्प अमोनकर और दिगंबर कामत ने इस साल विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की है।