जर्मनी के एक शख्स ने भारत आकर अपनी रूस की गर्लफ्रेंड से हिंदू रीति रिवाज से शादी की है। इन दोनों की शादी अब हर जगह चर्चा का विषय बनी हुई है। रविवार को हिम्मतनगर के सरोदिया गांव में जब क्रिस मुलर और जूलिया उख्वाकातिना की शादी हो रही थी तो गांव के कई लोग वहां पहुंचे।

दोनों ने वैदिक रीति-रिवाजों और मंत्रों के साथ हिंदू रीति रिवाज से शादी की। क्रिस मुलर ने बताया कि एक समय था जब उन्हें रईसों की तरह जिंदगी जीने का शौक था। वह एक धनी जर्मन व्यवसायी के पुत्र हैं। वह एक जर्मन और सिंगापुर स्थित कंपनी के सीईओ भी हैं। उन्होंने कहा कि जब वह 23 साल के थे तब उनके पास सब कुछ था। एक बड़ा घर, मंहगी कार और खूब सारा पैसा। लेकिन फिर भी मैं उदास रहता था। फिर मैंने अपना सब कुछ छोड़कर एक स्पोर्ट्स कार खरीदी और दुनिया की यात्रा पर निकल पड़ा।

इस दौरान उन्होंने कई देश घूमे और ऐसे ही उसकी मुलाकात रूस की रहने वाली जूलिया उख्वाकातिना नामक महिला से हुई। वो एक योगा ट्रेनर हैं। वियतनाम में इन दोनों की मुलाकात हुआ और दोनों एक दूसरे के काफी करीब आ गए।

क्रिस ने दुनिया के हर महाद्वीप की यात्रा की है। लेकिन उन्हें भारत की सभ्यता और संस्कृति काफी पसंद आई। क्रिस ने बताया कि उन्होंने भारत को अपने विवाह स्थल के रूप में इसलिए चुना क्योंकि यहां उन्हें घर जैसा महसूस होता है।

उन्होंने कहा, ''मुझे अपने देश में भी ऐसा महसूस नहीं होता जैसा भारत में होता है। भारत एक धार्मिक स्थान है और मुझे यहां रहना पसंद है।''  साल 2019 में वे दोनों गुजरात के सरोदिया गांव आए थे, जिसके बाद उन्हें इस जगह से प्यार हो गया। फिर दादा भगवान के यहां शिक्षा लेने के बाद क्रिस और जूलिया ने तय किया कि वह हिंदू रीति रिवाज से ही शादी करेंगे।