नई दिल्ली. भारतीय उद्योगपति अडाणी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अडाणी अमेरिका के दिग्गज निवेशक वॉरेन बफे को पछाड़कर दुनिया के पांचवें सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं. फोब्र्स की रिपोर्ट के अनुसार 59 वर्षीय गौतम अडाणी की अनुमानित कुल संपत्ति 12370 करोड़ डॉलर है. वहीं वॉरेन बफे की नेटवर्थ 12170 करोड़ डॉलर आंकी गई है. इस तरह बफे को पीछे छोड़ते हुए इस लिस्ट में अडाणी पांचवें नंबर पर पहुंच गए हैं, जबकि बफे छठे स्थान पर खिसक गए हैं.

यह भी पढ़े : Today's Horoscope 26  April: इन 3 राशि वालों के लिए आज का दिन लाभकारी, सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें


ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार उद्योगपति गौतम अडानी की संपत्ति में साल 2022 में 4300 करोड़ डॉलर का इजाफा हुआ है, यानी उनके पोर्टफोलियो में 56.2 प्रतिशत की जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है. इसके बाद अब दुनिया में अडाणी से ज्यादा अमीर केवल चार लोग हैं, जिसमें शामिल हैं- माइक्रोसॉफ्ट के को-फाउंडर बिल गेट्स (13019 करोड़ डॉलर), बनाज़्डज़् अरनॉल्ट (16790 करोड़ डॉलर), जेफ बेजोस (17020 करोड़ डॉलर) और एलन मस्क (26970 करोड़ डॉलर). वहीं, अनुमानित 12370 करोड़ डॉलर की कुल संपत्ति के साथ इस वक्त वे भारत के सबसे अमीर व्यक्ति हैं.

यह भी पढ़े : Diamond Crossing: भारत का अनोखा रेलवे ट्रैक, यहां चारों दिशाओं से आती है ट्रेनें फिर भी आज तक नहीं हुई कोई टक्कर


गौतम अडाणी, अडाणी ग्रुप के चेयरमैन और फाउंडर हैं, जो कि एयरपोर्ट से पोट्र्स तक और पावर जनरेशन से डिस्ट्रिब्यूशन तक कई बिजनेस में शामिल है. भारत में इसकी 6 पब्लिकली कारोबार करने वाली कंपनियां हैं, जिनमें अडाणी एंटरप्राइजेज, अडाणी ग्रीन एनजीज़् और अडाणी पावर शामिल हैं. अडाणी ग्रुप ने 8 अप्रैल को बताया था कि अबू धाबी बेस्ड इंटरनेशनल होल्डिंग कंपनी पीजेएससी ने अडाणी की तीन पोर्टफोलियो कंपनियों अडाणी ग्रीन एनर्जी, अडाणी ट्रांसमिशन और अडाणी एंटरप्राइजेज में 200 करोड़ डॉलर से अधिक का निवेश किया है.