आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर जाना अब महंगा होने जा रहा है।  1 अप्रैल, 2021 से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर कार से सफर करने वालों को 5 रुपए ज्यादा टोल टैक्स (Toll Tax) देना होगा।  हालांकि कमर्शियल व्हीकल जैसे बस और ट्रक के लिए टोल टैक्स में बढ़ोतरी नहीं की गई है।  उत्तर प्रदेश एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण  ने टोल टैक्स में बढ़ोतरी का फैसला किया है।  नई दरें नए वित्त वर्ष 2021-22 की शुरुआत से लागू हो जाएंगी। 

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अब कार, जीप के एक्सप्रेसवे से गुजरने पर 600 रुपए का भुगतान करना होगा।  पहले ऐसे व्हीकल के लिए टोल टैक्स 595 रुपए था।  वहीं हल्के कमर्शियल वाहनों, मिनी बस के लिए टोल टैक्स 940 रुपए से बढ़कर 945 रुपए और भारी वाहनों के लिए टोल टैक्स 3720 रुपए से बढ़कर 3745 रुपए हो गया। 

इसके साथ ही, UPEIDA ने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर सफर करने यात्रियों को राहत दी ह। . यात्रियों को मिलने वाली छूट अगले वित्त वर्ष में भी जारी रहेगी।  UPEIDA ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए 25 फीसदी की छूट को बरकरार रखा है।  यानी यात्रियों को टोल टैक्स में बढ़ोतरी के बावजूद छूट भी मिलेगी।  बता दें कि आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे से रोजाना 38 हजार से ज्यादा वाहन गुजरते हैं। 

केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार अगले एक साल में सभी टोल प्लाजा को खत्म कर देगी और इसको लेकर काम किया जा रहा है।  आगे चल कर लोगों टेक्नोलॉजी की मदद से उतना ही टोल चुकाना होगा जितना वे रोड पर चलेंगे। 

नितिन गडकरी ने कहा कि टोल खत्म करने का मतलब टोल प्लाजा को खत्म करने से है और सरकार ऐसी तकनीक पर काम कर रही है कि जिसमें आप हाईवे पर जहां से चढ़ेंगे, वहां जीपीएस की मदद से कैमरा आपकी फोटो लेगा और जहां आप हाईवे से उतरेंगे वहां की फोटो लिया जाएगा और इस तरह आपको उतनी ही दूर का टोल चुकाना होगा।