दिल्लीवालों को मुफ्त वाई-फाई सेवा मिलती रहेगी। दिल्ली सरकार ने मंगलवार को कैबिनेट बैठक में इस सेवा को जारी रखने की मंजूरी दे दी है। राजधानी में अभी 10,561 जगहों पर वाई-फाई हॉट स्पॉट लगे हैं। सरकार का दावा है कि इन हॉट स्पॉट से एक साथ 21 लाख लोग मुफ्त वाई-फाई का इस्तेमाल कर सकते हैं।

दिसंबर 2019 में आईटीओ बस स्टॉफ पर पहला वाई-फाई हॉट स्पॉट लगाया गया था। तब सरकार ने दावा किया था कि दिल्ली दुनिया का पहला शहर है, जहां लोगों को मुफ्त वाई-फाई की सुविधा मिलती है। उसके बाद सभी विधानसभा क्षेत्रों में वाई-फाई हॉट स्पॉट लगाए गए थे। सरकार हर साल इसके लिए अलग से बजट का प्रावधान करती है। अब सरकार ने फिर इस सेवा को आगे जारी रखने की मंजूरी दी है। 

दिल्ली में अभी तक 10,561 वाई-फाई हॉट स्पॉट लगाए गए हैं। इनमे से 2208 हॉट स्पॉट बस स्टॉप पर और 8353 अलग-अलग जगहों पर लगाए गए हैं। सरकार का दावा है कि इसकी मदद से हर 500 मीटर की दूरी पर लोगों को मुफ्त वाई-फाई की सुविधा मिल रही है। 

प्रत्येक हॉट स्पॉट का रेडियस 100 मीटर का है। इसका प्रयोग करने वाले वाले 100-200 एमबीपीएस की स्पीड मिल रही है। प्रतिदिन 1.5 जीबी डेटा मिलता है। प्रति माह अधिकतम 150 जीबी डाटा का इस्तेमाल एक व्यक्ति कर सकता है।