फ्रांस उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) के तहत रोमानिया में 500 सैनिकों को तैनात करेगा। फ्रांस दैनिक समाचार पत्र ले फिगारो ने फ्रांस के सशस्त्र बलों के चीफ ऑफ स्टाफ जनरल थियरी बुर्कहार्ड का हवाला देते हुए यह जानकारी दी है। 

ये भी पढ़ें

यूक्रेन से भारत की बेटी ने रोते हुए कहा, मां-अब जिंदगी का कोई भरोसा नहीं, बचा लो


चीफ ऑफ स्टाफ बुर्कहार्ड ने शुक्रवार देर रात प्रेस कांफ्रेंस में कहा, नाटो ने अपनी स्थिति को मजबूत करने का फैसला लिया है और रणनीतिक एकजुटता पर स्पष्ट संकेत देते हुए रोमानिया में सुरक्षा बलों को तैनात करने का फैसला किया है। बुर्कहार्ड ने कहा, हम रोमानिया को सहायता प्रदान करने के लिए बख्तरबंद वाहनों, लड़ाकू वाहनों के साथ लगभग 500 जवानों को तैनात करेंगे। 

ये भी पढ़ें

इसे कहते हैं राष्ट्रप्रेमः शादी के अगले ही दिन राइफल लेकर यूक्रेन की रक्षा के लिए खड़ा हुआ ये जोड़ा


उन्होंने कहा कि एस्टोनिया में फ्रांसीसी सैन्य उपस्थिति जारी रहेगी। बख्तरबंद वाहनों के साथ लगभग 200 से 250 सैनिकों रहेंगे। पर्वतीय क्षेत्रों में कड़ाके की ठंड में फ्रांसीसी सेना के कुलीन पर्वतीय पैदल सेना बल को तैैनात किया जाएगाा। इसके अलावा, उन्होंने कहा कि फ्रांस एस्टोनिया में ‘चार फ्रांसीसी सेना के कुलीन पर्वत पैदल सेना बल और मिराज 2000’ तैनात करने के लिए भी आगे बढ़ेगा। मिराज 200 दसॉल्ट एविएशन निर्मित सिंगल-इंजन लडाकू विमान तैनात किया जाएगा।