महिलाओं में पीसीओडी, फैलोपियन ट्यूब के ब्‍लॉक होने, ओवुलेशन न होने जैसी कई स्थितियों के कारण इनफर्टिलिटी की समस्या हो जाती है। जबकि पुरुषों में स्‍पर्म क्‍वालिटी या काउंट कम होने पर भी महिला पार्टनर गर्भधारण नहीं कर पाती है।

अगर आप या आपका पार्टनर इनफर्टिलिटी से ग्रस्‍त है तो आपको सबसे पहले अपनी डाइट में बदलाव करना चाहिए। हेल्‍दी रहने और इनफर्टिलिटी को खत्‍म करने में डाइट और पोषण बहुत मददगार साबित होते हैं। यहां हम आपको एक ऐसे फूड के बारे में बता रहे हैं जो महिलाओं और पुरुषों दोनों में ही फर्टिलिटी को बढ़ाकर गर्भधारण करने में मदद करेगा।

​यदि पुरुषों को शीघ्रस्‍खलन की समस्‍या है, स्‍पर्म की क्‍वालिटी या काउंट कम है तो आपको मखाने खाने चाहिए। जिन महिलाओं को पीरियड्स में खून के थक्‍के ज्‍यादा आते हैं या ब्‍लीडिंग अधिक होती है, सफेद पानी आता है, मिसकैरेज के बाद रिकवरी करनी है, बच्‍चेदानी कमजोर है या आप गर्भधारण करना चाहती हैं तो मखाने खाएं।

पीसीओडी, थायराइड, डायबिटीज और कमजोरी में भी मखाने फायदेमंद होते हैं। वजन घटाने में भी मखाने खाने चाहिए।

​एक कप या 32 ग्राम मखाने में 20 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 5 ग्राम प्रोटीन, 15.9 आईयू विटामिन ए, 0.3 मिलीग्राम विटामिन बी6, 33 माइक्रोग्राम फोलिक एसिड, 1.2 मिलीग्राम आयरन, कैल्शियम 52 मिलीग्राम, पोटैशियम 430 मिलीग्राम, फास्‍फोरस 198 मिलीग्राम, ओमेगा-3 फैटी एसिड 32 मिलीग्राम और 340 मिलीग्राम ओमेगा-6 फैटी एसिड होते हैं।

​जल्‍दी गर्भधारण करने के लिए और पुरुषों में स्‍पर्म क्‍वालिटी को बेहतर करने के लिए आप मखाने खा सकते हैं। हेल्‍दी ऑयल या देसी घी में मखानों को रोस्‍ट करें। कढ़ाई में घी डालें और फिर मखाने डालें। इसमें एक या दो चुटकी हल्‍दी भी डाल दें और मखानों को भूनें। इसके अलावा मखाने की खीर भी खा सकती हैं। वेजिटेबल सूप में भी रोस्‍ट किए गए मखाने डालकर खा सकते हैं।

​अगर आप रोस्‍ट किए हुए मखाने नहीं खाना चाहते हैं तो मखाने का दूध भी पी सकते हैं। इसके लिए दूध को उबालने के लिए रखें। उसमें मखाने और दो चुटकी हल्‍दी भी डालें। अब दूध में उबाल आने दें। जब दूध उबल जाए तो इसे मखानों के साथ ही पी लें। आप रात को मखाने का दूध पी सकते हैं। इससे आपकी फर्टिलिटी पॉवर में सुधार आएगा।

मखाना खाने से पुरुषों में इनफर्टिलिटी का इलाज भी होता है। इससे वीर्य का चिपचिपापन बढ़ता है जिससे वीर्य की क्‍वालिटी और क्‍वांटिटी में सुधार आता है। मखाने से यौन इच्‍छा में वृद्धि होती है और शीघ्रस्‍खलन की शिकायत भी दूर होती है।