प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय कार्यालय भवन की तस्वीरें कमर्शियल वेबसाइट ‘ओएलएक्स’ पर डालकर उसे साढ़े सात करोड़ रुपये में बेचने की ऑनलाइन पेशकश करने के आरोप में पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लिया है। 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अमित पाठक ने शुक्रवार को एक वीडियो के माध्यम से बयान जारी कर कहा कि मामला संज्ञान में आते ही पुलिस ने तत्परता से छानबीन शुरू कर दी थी। भेलूपुर थाने में प्राथमिकी दर्ज कर चार आरोपियों को हिरासत लेकर उनसे पूछताछ की जा रही है। 

उन्होंने कहा कि दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। गौरतलब है कि वाराणसी शहरी इलाके भेलूपुर थाना क्षेत्र के जवाहर नगर कॉलोनी स्थित मोदी के संसदीय कार्यालय भवन की दो तस्वीरें मशहूर कमर्शियल बेवसाइट ‘ओएलएक्स’ पर डालकर उसकी बिक्री करने की पेशकश करते हुए कीमत साढ़े सात करोड़ रुपये बतायी गयी है। वेब साइट पर तस्वीरों के साथ बिक्री की पेशकश करने वाले व्यक्ति का नाम लक्ष्मी ओझा लिखा गया है। इस मामला गुरुवार को प्रकाश में आया था। वेबसाइट पर दिख रही तस्वीरों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के झंडे के रंग की बड़ी होर्डिंग प्रधानमंत्री मोदी की फोटो और उसका चुनाव चिन्ह ‘कमल’ साफ तौर पर दिखायी देता है।