प्रवर्तन निदेशालय ने चन्नी के भतीजे भूपिंदर सिंह हनी और अन्य से जुड़े अवैध रेत खनन मामले में पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी से जालंधर स्थित अपने कार्यालय में पूछताछ की है। ईडी इस सिलसिले में हनी के खिलाफ पहले ही चार्जशीट दाखिल कर चुकी है।

ये भी पढ़ेंः अजान की आवाज के बीच यूपी के डिप्टी सीएम ने किया ऐसा काम, हर तरफ हो रही तारीफ


चन्नी ने ट्वीट किया,  मुझे खनन मामले के संबंध में ईडी द्वारा कल तलब किया गया था। मैंने अपनी जानकारी के अनुसार उनके द्वारा पूछे गए प्रश्नों का उत्तर दिया। इस मामले में एक चालान पहले ही ईडी द्वारा अदालत में प्रस्तुत किया जा चुका है। अधिकारियों ने मुझे फिर से आने के लिए नहीं कहा। ईडी का यह मामला दो साल पुरानी प्राथमिकी पर आधारित है।

ये भी पढ़ेंः कनाडाई नेता ने भारतीय मुस्लिमों को लेकर कही बड़ी बात, मोदी सरकार पर लगाए ऐसे आरोप


7 मार्च 2018 को पंजाब पुलिस ने दस से अधिक आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी। एफआईआर में हनी का नाम नहीं था, जबकि कुदरत दीप सिंह को मामले में क्लीन चिट दे दी गई थी। ईडी ने नवंबर 2021 में पंजाब में अवैध रेत खनन से संबंधित इस प्राथमिकी के आधार पर मनी लॉन्ड्रिंग जांच शुरू की थी।