आगामी पंचायत चुनाव के मद्देनजर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) की प्रदेश कमेटी ने अपनी कमर कस ली है। दल की सांगठनिक स्थिति को मजबूत करने के लिए पार्टी जमीनी स्तर के कार्यकर्ताओं के जुडऩे के साथ ही अन्य राजनीतिक दलों तथा विभिन्न स्थानीय संगठनों के नेता कार्यकताओं को अपनी पार्टी में स्थान दे रही है। 

राजद के प्रदेश अध्यक्ष कनक गोगोई की अध्यक्षता में दिसपुर प्रेस क्लब में पार्टी की एक सांगठनिक सभा आयोजित की गई। सभा में राजद की पूर्वोत्तर भारत के समन्वयक इहरहिल नंद सहित प्रदेश कमेटी के कई वरिष्ठ नेताओं ने भाग लिया। इस अवसर पर राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से आए विभिन्न दल संगठनों के नेता व कार्यकर्ताओं ने राजद की सदस्यता ली और समर्पित भावना के साथ पार्टी के लिए काम करने का संकल्प किया।

राजद की सांगठनिक सभा में प्रदेश कांग्रेस में एसटी मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण हजारिका और कॉटन कॉलेज के पूर्व हॉकी सचिव देवजीत तामुली सहित तपन ज्योति सइकिया, अभिमन्यु दास, अजगर अली, मजिबुर रहमान, गौरी प्रसाद शर्मा, बुलकी कलिता, गीता बरुवा, पंपी बोरा, रूमा बोरा, त्रैलोक्य कश्यप आदि ने राजद  की प्रदेश समिति की सदस्यता ली। इस अवसर पर राजद के प्रदेश अध्यक्ष कनक गोगोई ने कहा कि राज्य में भ्रष्टाचार मुक्त शासन का भरोसा दिलाकर सत्ता हथियाने वाली भाजपा सरकार पर लोगों का विश्वास खत्म हो गया है। मुख्यमंत्री सोनोवाल असम विरोधी नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर चुप्पी साधे हुए हैं। 

उन्होंने भाजपा को जाति विध्वंसी और सत्ता लालची पार्टी करार दिया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ खुलकर बोलने वाले बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री तथा राजद प्रमुख लालू प्रसाद के नेतृत्व में ही भाजपा को मात दे सकेंगे। उन्होंने कहा कि देश में बिना तैयारी के नोटबंदी व जीएसटी को लागू करने वाली केंद्र की भाजपा सरकार खुद को हर मोर्च होता देखकर सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी करती है। यह सब इनका राजनीतिक षडयंत्र व हथकंडा नहीं तो और क्या है।