मेघालय पुलिस से स्वैच्छिक अवकास ग्रहण कर चुके पूर्व पुलिस निरीक्षक(सीआईडी) को लोगों का ढाई करोड़ रुपए डकारने समेत कई आरोपों के सिलसिले में शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस ने आरोपी अधिकारी अंजन चक्रवर्ती को नगर स्थित एसबीआई की संध्या शाखा से पकड़ा। पुलिस के मुताबिक आरोपी खुद को पश्चिम बंगाल के जासूस विभाग के सहायक आयुक्त बताते हुए कोलकाता के अनगिनत लोगों को अपना शिकार बनाया था।

उनमें से एक मामला कोलकाता के इकबालपुर का है, जहां आरोपी पर कोलकाता पुलिस का फर्जी आईडी कार्ड बनाने का आरोप है।

उसपर सीबीआई के अधीन पुलिस का उप अधीक्षक बताते हुए तथा गलत मामलों में फंसाने की धमकी देते हुए एक व्यक्ति से 25 लाख रुपए मांगने का भी आरोप है।

इस मामलें में शिकायतकर्ता अब्दुल मनाफ ने उससे पीछा छुड़ाने हेतु 10 लाख रुपए चुकाने एवं बाकी की रकम बाद में देने का वादा करने का आरोप लगाया है। आरोपी चक्रवर्ती को गिरफ्तारी के तुरंत बाद अदालत में हाजिर कराया गया। बाद में अधिक पूछताछ के लिए पश्चिम बंगाल पुलिस उसे कोलकाता ले गई।