मशहूर अभिनेत्री और पूर्व मॉडल एमी डोरिस ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पर न्यूयार्क में 1997 में यूएस ओपन टेनिस टूर्नामेंट के दौरान उसके साथ शारीरिक दुर्र्व्यवहार करने का आरोप लगाया है। डेरिस ने लंदन स्थित एक समाचार पत्र को दिए एक साक्षात्कार में कहा कि वह पांच सितंबर 1997 को इस टूर्नामेंट को देखने के लिए न्यूयार्क गई थी और उस समय उसकी आयु मात्र 24 वर्ष थी। 

डोरिस ने प्रमाण के तौर पर उस कार्यक्रम की टिकटों और फोटो की प्रतियां समाचार पत्र को उपलब्ध कराई हैं जिनमें वह ट्रंप के आगे खड़ी हैं। उस समय ट्रंप एक नामी कारोबारी थे। डोरिस ने कहा, डोनाल्ड ट्रंप मेरे गले के निचले हिस्से तक अपनी जीभ का इस्तेमाल कर रहे थे और उनकी पकड़ मेरे शरीर के हिस्सों पर कसती जा रही थी, जिसका मैने जोरदार प्रतिकार किया और उन्हें बार-बार पीछे की तरफ धकेला भी, लेकिन वह मान नहीं रहे थे और उनका हाथ मेरे शरीर के हर हिस्से पर जा रहा था और मैं उनकी पकड़ से आजाद नहीं हो पा रही थी।

समाचार पत्र ने यह भी कहा है कि ट्रंप ने इस अभिनेत्री के साथ ऐसी घटना से इनकार किया है। उसने कहा कहा कि जिस समय 2016 में राष्ट्रपति चुनाव के दौरान तत्कालीन राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार ट्रंप के कारनामों के खिलाफ अनेक महिलाओं ने खुल अपनी आपबीती बताई थी, उस समय उन्होंने ट्रंप के खिलाफ कोई भी आरोप इसलिए नहीं लगाया था कि इससे उनके परिवार को नुकसान हो सकता था।

 डोरिस की इस समय दो बेटियां हैं, उसका कहना है, अब मेरी बेटियों की उम्र 13 साल हो गई है और मैं उन्हें यह बताना चाहती हूं कि अपने साथ किसी को भी ऐसा कार्य करने की अनुमति नहीं दो जिस कार्य को आप पसंद नहीं करते हो। मैं अब अपनी बेटियों की रोल मॉडल बनना चाहूंगी और उन्हें यह बताना चाहती हूं कि मैंने इस मामले में चुप्पी नहीं साधी थी और मैं ऐसे व्यक्ति के खिलाफ खड़ी हुई थी जिसने मेरे साथ वह काम किया था जो मुझे ही स्वीकार्य नहीं था। गौरतलब है कि ट्रंप के चुनाव प्रचार के समय कम से कम 15 महिलाओं ने उनके खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोप लगाए थे और इनमें से कईं मामले दशकों पुराने थे। ट्रंप ने हालांकि इन आरोपों को निराधार बताया है और ऐसे आरोप लगाने वाली महिलाओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का संकल्प लिया है।