देश की राजधानी दिल्ली में गर्भवती विदेशी महिला और उसके 13 महीने के बेटे की लाश मिलने से सनसनी फैल गई।  महिला किर्गिस्तान की मूल निवासी थी।  कत्ल की गई महिला का नाम मिस्कल ज़ुमाबेवा  और उसके बेटे का नाम मानस है।  

घटना के बाद से ही महिला का पति फरार है।  महिला ने भारतीय नागरिक से शादी की थी।  महिला पति के साथ ग्रेटर कैलाश पार्ट-2 में किराए के मकान में रहती थी।  मां-बेटे की लाश मगर कालकाजी थाना क्षेत्र में स्थित एक मकान में मिलीं। 

घटना की पुष्टि जिला डीसीपी ने की है।  उन्होंने कहा कि मां-बेटा की हत्या चाकू से गोदकर की गई है।  महिला के बदन पर चाकू के चार और बेटे के बदन पर चाकू से हमले के पांच गहरे घाव मिले हैं।  पुलिस का अनुमान है कि हमलावर दोनो को मरा हुआ मानकर ही घटनास्थल से भागा है।  इस सिलसिले में कालकाजी थाने में कत्ल का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।  फिलहाल पुलिस महिला के पति की तलाश कर रही है। 

घटना के बाद से ही गायब महिला के पति का नाम विनय चौहान है।  दोनो की शादी दो साल पहले हुई थी।  इन दिनों महिला गर्भवती थी।  बीती रात महिला डॉक्टर के पास जाना चाहती थी।  इसी बात को लेकर उसका पति से झगड़ा भी हुआ था।  उसके बाद गुस्से से बिफरा पति विनय चौहान ग्रेटर कैलाश वाले किराए के मकान में ही पत्नी और बेटे को छोड़कर कहीं चला गया।  

उसके बाद मिस्कल जुमाबेवा ने अपनी परिचित महिला मतलूबा से मदद मांगी।  मतलूबा मूल रूप से उज्बेकिस्तान की रहने वाली है।  वो फिलहाल कालकाजी इलाके में किराए के मकान में रह रही हैं।  इसी मकान में दोनो लाशें मिलीं हैं।  जिला डीसीपी के मुताबिक, घर से पत्नी से नाराज होकर जाने के बाद महिला का पति अपने दोस्त वाहिद के साथ रहा था।