इटावा। मथुरा की होली (Mathura holi) की चर्चा को देश दुनिया मे होती ही है, इसके साथ ही उत्तर प्रदेश के प्रतिष्ठित मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) परिवार की होली भी कमतर नहीं मानी जाती है और मुलायमी होली की राजनेताओ के बीच चर्चा के केंद्र मे रहती आई है। इस बार यादव परिवार के गृहनगर इटावा के सैफई में फूलों की होली का स्थान बदल दिया गया है। पहली दफा मुलायम आंगन से बाहर निकल कर होली सैफई महोत्सव पंडाल में आयोजित होगी। 

यह भी पढ़ें- Happy Holi Wishes 2022: रंगों इस फेस्टिवल पर अपनों को इन मैसेज से भेंजे शुभकामनाएं , बोलें- Happy Holi

सैफई की होली इस बार रणवीर सिंह स्मृति महोत्सव पंडाल में बड़े भव्य तरीके से मनाई जाएगी। इसकी तैयारियां तेजी के साथ चल रही हैं और काफी अर्से के बाद यहां पर पूरा कुनबा एक साथ नजर आयेगा। सैफई गांव की प्रसिद्ध होली नेताजी मुलायम ङ्क्षसह यादव के आवास पर पिछले लंबे समय से चली आ रही है। बेशक चुनाव नतीजे सपा के पक्ष में नहीं रहे उसके बावजूद भी होली के त्यौहार पर कार्यकर्ताओं को कोई कमी महसूस नही कराने दी जाएगी। हर वर्ष की भांति इस बार भी नेताजी मुलायम सिंह यादव की आवास की होली अबकी बार रणबीर सिंह स्मृति महोत्सव पंडाल में खेली जाएगी। 

यह भी पढ़ें- Holika Dahan 2022 Subh Muhurat: फाल्गुन पूर्णिमा दोपहर 1:29 से प्रारंभ होगी, जानिए होलिका दहन और होली पूजा का शुभ मुहूर्त

व्यवस्थापक विजय शाक्य एवं पूर्व प्रधान संतोष शाक्य का कहना है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देशन पर अबकी बार बड़े स्तर पर होली का कार्यक्रम कराया जा रहा है। आवास पर जगह कम होने के कारण अव्यवस्थाएं फैल जाती थी। प्रदेशभर से बड़ी संख्या में लोग यहां आते थे भीड़ अधिक होने के कारण मुलाकात भी नहीं हो पाती थी। इन सारी बातों को ध्यान में रखते हुए अबकी बार महोत्सव पंडाल में फूलों की होली खेली जाएगी। यहां बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता होली मनाने प्रदेश भर से यहां पर आएंगे। अखिलेश यादव पत्नी डिंपल यादव के साथ गुरुवार की शाम सैफई पहुंचेंगे और शुक्रवार की सुबह सैफई महोत्सव पंडाल में कार्यकर्ताओं के साथ होली खेलेंगे। चाचा शिवपाल सिंह यादव एवं सपा प्रमुख राष्ट्रीय महासचिव प्रो. रामगोपाल यादव, पूर्व सांसद धर्मेंद्र यादव, पूर्व सांसद अक्षय यादव, पूर्व सांसद तेज प्रताप यादव सहित परिवार के सभी सदस्य एक साथ मंच पर मौजूद रहेंगे।