दिल्ली (Delhi) के उत्तम नगर के पास एक हैरान कर देने वाली अपराध की घटना सामने आई है जिसमें एक तरफा प्यार के चक्कर में एक शख्स ने मॉडलिंग की तैयारी कर रही एक 23 साल की लड़की की जान ले ली। आरोपी ने चाकू मारकर लड़की (Girl Stabbed) पर हमला किया। असल में लड़का कई बार लड़की को अपने प्यार का प्रस्ताव दे चुका था लेकिन लड़की ने उसे खारिज कर कई बार फटकार लगाई थी, अब जब लड़की रात 11 बजे अपने किसी दोस्त के जन्मदिन के लिए घर से निकली थी तो घर से 300 मीटर दूर 3 लोगों ने उस पर हमला कर दिया, एक फूड डिलिवरी एक्जीक्यूटिव ने हमला होते हुए देखा था।

पुलिस ने कहा कि उन्हें पश्चिमी दिल्ली में उत्तम नगर के पास ओम विहार में मटियाला रोड पर हुई घटना के बारे में उन्हें मंगलवार को तड़के 1.20 बजे एक फोन आया था। पुलिस ने बताया कि उन्हें पीड़िता खून से लथपथ एक चाकू के साथ पड़ी मिली थी। बाद में लड़की की पहचान डॉली बब्बर के रूप में की गई, जो एक  फ्रीलांस इवेंट ऑर्गनाइजर के रूप में काम करती थीं।

डॉली के घर पर उसके छोटे भाई लक्ष्य ने कहा कि उसे उसकी बहन के प्रेमी का फोन आया था कि वह खतरे में है। लक्ष्य ने आरोप लगाया, "लड़के ने मुझे बताया कि डॉली ने उसे फोन किया था और उसे बताया था कि अंकित गाबा ने उसके सिर पर बंदूक रख दी है और वह उसे धमका रहा है। इसके तुरंत बाद, डॉली का फोन बंद हो गया और कुछ समय बाद ही पुलिसकर्मी हमें यह बताने के लिए आए कि कैसे उसके हाथों, गर्दन, छाती और पीठ पर चाकू के घाव हैं और उनसे खून बह रहा था।

भाई ने यह भी दावा किया कि 25 वर्षीय गाबा कई सालों से डॉली का पीछा कर रहा थी लेकिन उसने लगातार उसके प्रस्तावों को अस्वीकार कर दिया। डॉली की चचेरी बहन संजना ने भी इस बात की पुष्टि की। उसने कहा, "लंबे समय से, अंकित ने डॉली को लगातार उसके साथ रिश्ते में आने के लिए कह रहा था, लेकिन वह भी लगातार उसे मना कर रही थी।" पीड़िता के भाई लक्ष्य ने यह भी अनुमान लगाया कि यह हमला पांच साल पहले गाबा की छोटी बहन के साथ उसके अपने अफेयर के कारण हो सकता है।

डॉली की मां मीना बब्बर बताती हैं डॉली रात करीब 11 बजे एक दोस्त के घर केक काटने के लिए घर से निकली थी। वो कहती हैं, "उसने मुझे चिंता न करने के लिए कहा और बताया कि वह 1 बजे तक घर आ जाएगी। लगभग 1.30 बजे, उसके बजाय पुलिस ने दरवाजा खटखटाया ”  उन्होंने कहा कि डॉली एक मजबूत और उज्ज्वल महिला थी जो परिवार की देखभाल करती थी। लॉकडाउन के दौरान उसने अपनी नौकरी खो दी थी लेकिन धीरे-धीरे फिर से शुरू हो गई थी। उसके पिता ऑटोरिक्शा चलाते हैं।

जिस जगह पर उसकी हत्या की गई, वहां अक्सर लड़के शराब पीते हैं।   एक पड़ोसी ने कहा, 'हमने वहां सीसीटीवी कैमरा भी लगाया था, लेकिन किसी ने चुरा लिया। हर दिन, स्थानीय लड़के वहां शराब पीते हैं और इसके बारे में बोलने पर हमें धमकाते हैं।” पड़ोसी ने यह भी दावा किया कि उनमें से कई लोगों ने हमला देखा लेकिन अपनी सुरक्षा के डर से डॉली की मदद के लिए जाने की हिम्मत नहीं की।

तीन आरोपियों में से एक युवक घटनास्थल के पास रहता है। हालाँकि, उसकी बहन ने कहा, “मुझे नहीं लगता कि मेरा भाई डॉली को मार सकता था। वह उसे बहन मानता था और उससे राखी बंधवाता था। हाँ, वह घर से निकला है और वापस नहीं आया है।” पुलिस ने कहा, “लड़की को एक लड़के ने चाकू मार दिया था, जो उसका कथित पूर्व प्रेमी था। हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है।"