लगातार बारिश से पूर्वोत्तर के राज्य असम में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। एक और शव मिलने से बाढ़जनित घटनाओं में मरने वालों की संख्या 33 हो गई। असम राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एएसडीएमए) के रोजाना बुलेटिन के अनुसार पांच जिलों में 41,065 लोग अब भी बाढ़ की चपेट में हैं, कल सात जिलों में 51,400 लोग बाढ़ से प्रभावित थे। 


वहीं केंद्रीय जल आयोग ने भी गुवाहाटी में ब्रह्मपुत्र नदी के जल स्तर में वृद्धि की खबरों की पुष्टि करते हुए कहा है कि अभी यह स्तर और बढ़ने की आशंका है। आयोग ने कहा, 'गुवाहाटी में ब्रह्मपुत्र नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। शुक्रवार को यह 48.64 सेंटीमीटर था और अब यह 49.02 सेंटीमीटर हो गया है। अगर यह स्तर 66 सेंटीमीटर को पार कर गया तो यहां भी खतरे की स्थिति उत्पन्न हो जाएगी।' 

एएसडीएमए की ओर से जारी रिपोर्ट के मुताबिक, करीमगंज सबसे अधिक बाढ़ प्रभावित जिला है, जहां 1.25 लाख से ज्यादा लोग बाढ़ की दंश झेलने को मजबूर हैं। इसके बाद कछार जिले में 27,000 लोग प्रभावित हैं। राज्य में अब तक लगभग 25 लोगों की मौत बाढ़ के चलते हो चुकी है।