देश में सर्वाधिक वृद्धि दर वाले राज्य मेघालय ने पर्यटन में रोजगार सृजन के अवसरों की बदौलत काम की तलाश में बाहर जाकर बसे लोगों की घर वापसी का भरोसा दिलाया है।

मुख्यमंत्री मुकुल संगमा ने राज्य में पहले अंतरराष्ट्रीय चेरी ब्लॉसम महोत्सव की कार्ययोजना का खुलासा करते हुए नई दिल्ली के 1 रायसिना रोड स्थित प्रेस क्लब ऑफ इंडिया में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में सोमवार को कहा कि सभी पूर्वोत्तर राज्यों में पयर्टन की अपार संभावनाएं हैं। ऐसे में उनका दोहन कर प्रवासियों को घर वापसी का भरोसा जताया।

उन्होंने कहा कि यह महोत्सव पर्यटन के लिए वरदान साबित हो सकता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक, सांस्कृतिक और जैव विविधता के मामले में समृद्ध होने के बावजूद मेघालय सहित पूर्वोत्तर के अन्य राज्य पर्यटन के क्षेत्र में देश दुनिया की नजरों से अछूते रहे हैं।

पिछले पांच साल में मेघालय के देश में सर्वाधिक आर्थिक विकास दर वाले राज्य के रूप में उभरने में पर्यटन की अहम भूूमिका को देखते हुए राज्य सरकार ने रिवर्स माइग्रेशन स्कीम तैयार की है। इसके तहत ग्रामीण और इको पर्यटन को बढ़ावा देते हुए रोजगार सृजन के नए विकल्प तलाशे गए हैं।