गुजरात स्थित भावनगर  स्थित एक कोविड केयर सेंटर में देर रात आग लग गई।  दुर्घटना के वक्त कोविड केयर सेंटर में 70 मरीज भर्ती थे।  मिली जानकारी के अनुसार आग कालुभा रोड पर स्थित होटल जेनरेशन में लगी।  इस होटल को कोविड मरीजों के इलाज के लिए केयर सेंटर में तब्दील कर दिया गया है।  

बताया गया कि मंगलवार देर रात करीब 12 बजे  होटल की तीसरी मंजिल के एक कमरे में आग लगी।  जिसके तुरंत बाद लगभग 70 कोविड रोगियों को अन्य अस्पतालों में स्थानांतरित किया गया।  अब तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है।  मौजूदा जानकारी के अनुसार कमरे में आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी।  दमकल ने तीसरी मंजिल से कोरोना पॉजिटिव मरीजों को बचाया और एक बड़ी दुर्घटना टल गई। 

रात करीब 12.30 बजे टीवी यूनिट में शॉक सर्किट के कारण होटल की तीसरी मंजिल के एक कमरे में आग लग गई।  जिसके बाद इस कोविड केंद्र में भर्ती मरीज डर गए।  मौके पर मौजूद लोगों ने आग लगने की सूचना फायर ब्रिगेड को दी।   फायरब्रिगेड की टीम घटनास्थल पर पहुंची और आग को बुझाने में कामयाबी पाई। 

जब कोविड रोगियों के परिजनों को आग लगने की घटना के बारे में बताया गया तो वह भी तुरंत मौके पर पहुंच गए।  दमकल विभाग के अधिकारी ने बताया कि आग पर काबू पाने के बाद, कोविड केंद्र से 70 कोरोना रोगियों को अलग-अलग अस्पतालों में शिफ्ट किया गया। 

आग लगने की खबर मिलने के बाद स्थानीय  विधायक जीतूभाई वाघन भी मौके पर पहुंचे।  इस दौरान उन्होंने कहा, 'आग के कारण कोई हताहत नहीं हुआ. मैं जिन मरीजों से मिला हूं उन्हें अन्य अस्पतालों में स्थानांतरित कर दिया गया है।  पूरी घटना की जांच की जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होगी। '