बिहार में पुलिस प्रशासन सियासत गरमा रही है। पटना के विश्‍वेश्‍वरैया भवन में लगी आग ने अग्निशमन डीजी शोभा अहोतकर का पारा चढ़ा दिया है क्योंकि जब घटना घटित हुई तो खुद घटनास्थल पर पहुंचीं और इस बीच उन्होंने ऐसा बयान दिया कि पटना के SSP मानवजीत सिंह ढिल्लो की सिट्टी पिट्टी गुल हो गई है।



बता दें कि शोभा अहोतकर ने लोकल थाना पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया। विश्वेश्वरैया भवन पहुंचीं शोभा अहोतकर ने कहा कि आग पर काबू पाने के लिए हम लोग अपना करने में लगे हैं। भीड़ ज्यादा इकट्ठा हो गई है। लॉ एंड ऑर्डर संभालना क्या हम लोगों की ड्यूटी है? यहां भीड़ को नियंत्रण भी हम ही लोग कर रहे हैं।
यह भी पढ़ें- असम में BJP को चुनौती देने के लिए TMC बना रही है तगड़ी रणनीति, आज 1000 नेता तृणमूल कांग्रेस में होंगे शामिललोकल थाने की कोई भी पुलिस यहां नहीं पहुंची है। जिस तरह की भीड़ है कोई भी बड़ा हादसा हो सकता है। ऐसे में लोकल थाने को जिम्मेदारी बनती है कि यहां मौजूद रहे। शोभा अहोतकर ने कहा कि "निश्चित तौर पर जब हमें सूचना मिली है तो लोकल थाने की पुलिस को भी मिली होगी "।
इस तरह के लगे आरोपों को लेकर SSP मानवजीत सिंह ढिल्लो ने कहा वह इस पर कोई टिप्पणी नहीं कर सकते हैं। कहा कि यहां सीसीटीवी कैमरे लगे हैं. देखा जा सकता है कि यहां लोकल थाना की पुलिस है या नहीं। उन्होंने कहा कि NDRF की टीम भी बुलाई गई है। उनके पास कई तरह के यंत्र होते हैं।