भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह और पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ FIR दर्ज की गयी है। छत्तीसगढ़ के रायपुर सिविल लाइंस थाने में देश के दो शीर्ष भाजपा नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रमन सिंह और पार्टी प्रवक्ता संबित पात्रा के खिलाफ AICC अनुसंधान विभाग के लेटरहेड को कथित रूप से 'फर्जी' करने और 'झूठी और मनगढ़ंत' सामग्री छापने के लिए प्राथमिकी दर्ज की गई है।

रायपुर सिविल लाइंस पुलिस ने दोनों नेताओं को आगे की जांच के लिए तलब किया है। रायपुर सिविल लाइंस पुलिस एसएचओ आरके मिश्रा ने कहा कि “आज, हमने संबित पात्रा को व्यक्तिगत रूप से या वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से यहां उपस्थित होने के लिए कहा है। शिकायत छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस NSUE अध्यक्ष द्वारा दर्ज की गई थी "। इस बीच कांग्रेस ने दिल्ली पुलिस में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, संबित पात्रा और बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव बीएल संतोष के खिलाफ भी शिकायत दर्ज कराई है।

भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की "छवि खराब करने" के लिए कांग्रेस को एक कथित टूलकिट से जोड़ा था, जिसमें कुछ स्क्रीनशॉट "सबूत" के रूप में थे। भाजपा नेता संबित पात्रा ने मंगलवार को कथित टूलकिट को कांग्रेस सांसद राजीव गौड़ा के कार्यालय से जोड़ने के लिए दो स्क्रीनशॉट साझा किए है। टूलकिट को फर्जी बताते हुए कांग्रेस ने जवाब दिया। सिविल लाइंस थाने में "फर्जी खबर फैलाने" और "वर्गों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने" का मामला दर्ज किया गया था।