फिल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी और उनके परिवार की मुश्किलें लगातार बढ़ रही हैं। पति राज कुंद्रा के पोर्न फिल्म ऐप मामले में फंसने के बाद अब शिल्पा व उनकी मां सुनंदा शेट्टी करोड़ों की ठगी के मामले में फंसती जा रही हैं। आयोसिस स्लिमिंग स्किन सैलून व स्पा नाम से शिल्पा व सुनंदा शेट्टी ने कंपनी खोली। इनकी शाखा लखनऊ में खुलवाने के नाम पर कंपनी के अधिकारियों ने कई लोगों से संपर्क किया। 

उनसे सेंटर देने के नाम पर ढाई करोड़ रुपए वसूले थे। इस मामले में विभूतिखंड थाने में ज्योत्सना चौहान और हजरतगंज थाने में रोहित वीर सिंह ने ठगी का मामला दर्ज करवाया। जिसमें शिल्पा व सुनंदा की भूमिका भी सामने आ रही है। इस संबंध में हजरतगंज पुलिस ने जहां एक महीने पहले नोटिस भेजा था। वहीं विभूतिखंड पुलिस की टीम भी नोटिस तामिल कराने मुंबई पहुंच रही है। उधर, डीसीपी पूर्वी की एक विशेष टीम अलग से जांच के लिए मुंबई पहुंच गई है। जांच में भूमिका स्पष्ट होने पर दोनों की गिरफ्तारी भी की जा सकती है।

विभूतिखंड थानाक्षेत्र के ओमेक्स हाईट्स निवासी ज्योत्सना चौहान ने पिछले साल जून में मुकदमा दर्ज कराया था। जिसमें आरोप लगाया कि उनसे वेलनेस सेंटर खोलने के नाम पर आयोसिस कंपनी के किरन वावा, विनय भसीन, अनिका चतुर्वेदी, इशरफिल, नवनीत कौर, आशा, पूनम झा सहित कई लोगों पर करीब ढाई करोड़ रुपए दो बार में वसूले। वहीं सेंटर खोलने के लिए कंपनी के लोगों ने ही सामान भेजा। जिसके बदले में रुपए वसूले। 

आरोप है कि इसके लिए कई फर्जी दस्तावेजों का प्रयोग किया गया। सेंटर के उद्घाटन में सेलिब्रेटी के आने की बात कही गई थी। लेकिन उद्घाटन के कुछ समय पहले ही इस वायदे से मुकर गए। पीडि़त के मुताबिक कंपनी ने उसे काफी नुकसान पहुंचाया। पीडि़ता की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया। वहीं हजरतगंज थाने में रोहित वीर सिंह ने भी मुकदमा दर्ज कराया। जिसमें पुलिस ने विवेचना के दौरान शिल्पा शेट्टी व उनकी मां सुनंदा शेट्टी को एक महीने पहले ही बयान दर्ज कराने के लिए नोटिस जारी किया था। लेकिन दोनों ने अपना बयान दर्ज नहीं कराया। जल्द ही हजरतगंज पुलिस भी दोबारा दोनों सेलिब्रिटी का बयान दर्ज कराने के लिए मुंबई जा सकती है।