भारत में क्रिकेट लोगों की जान है, लेकिन इसके लिए कोई किसी की जान लेने की कोशिश कर सकता है क्या? सुनने में ये बात बेहूदी लगती है लेकिन एक ऐसा घटनाक्रम हुआ है। यह मामला है मध्य प्रदेश के महानगर ग्वालियर का जहां एक मैच के दौरान एक फील्डर का बल्लेबाज का कैच पकड़ना मुसीबत बन गया। ग्वालियर में आयोजित एक क्रिकेट मैच के दौरान 23 साल के एक बल्लेबाज ने 49 रन पर कैच आउट करने के लिए फील्डर को अपने बल्ले से पीट दिया। पुलिस ने रविवार को इसकी जानकारी दी।

शहर के पुलिस अधीक्षक रामनरेश पचौरी ने कहा कि सचिन पराशर (23) नाम के क्षेत्ररक्षक को गंभीर हालत में सरकारी अस्पताल में ले जाया गया और बल्लेबाज संजय पालिया को हत्या के प्रयास के लिए आरोपित किया गया है। यह घटना शनिवार को मेला मैदान पर खेले गये एक मैच के दौरान हुई।पचौरी ने कहा कि पालिया फरार हो गया और उसे पकड़ने के प्रयास किये जा रहे हैं।

पचौरी ने कहा, 'पराशर ने जब 49 रन पर उसका कैच लपक लिया तो पालिया गुस्से में आ गया जो 50 रन से केवल एक रन दूर था। पालिया भागकर पराशर की ओर गया और उसने बल्ले से सिर पर मारना शुरू कर दिया। अन्य खिलाड़ियों ने पालिया को रोकने की कोशिश की। पराशर को अस्पताल में अभी तक होश नहीं आया है।'