आज के इस दौर में कई महिलाएं मां नहीं बन पा रही है क्योंकि वो इनफर्टिलिटी से जूझ रही हैं। फर्टिलिटी मसाज से महिलाओं की फर्टिलिटी पॉवर को बढ़ाकर गर्भधारण करने में मदद मिल सकती है।अगर सही तेल से फर्टिलिटी मसाज की जाए, तो इससे मिलने वाला लाभ दोगुना हो सकता है। इस काम में अरंडी का तेल बहुत फायदेमंद होता है। महिलााओं के प्रजनन स्‍वास्‍थ्‍य पर अरंडी का तेल बहुत अच्‍छा प्रभाव डालता है। डॉक्‍टर भी अरंडी के तेल से फर्टिलिटी मसाज करने की सलाह देते हैं। कंसीव करने से पहले ओवरी, फैलोपियन ट्यूब, यूट्राइन, एग की हेल्‍थ और शरीर को डिटॉक्सिफाई करने के लिए अरंडी के तेल करी ही सलाह दी जाती है।

आईवीएफ या नैचुरली कंसीव करने के लिए आपको अपने शरीर को 120 दिन पहले से तैयार करना शुरू करना होता है।

अगर आप 120 दिन के बाद भी कंसीव नहीं कर पा रही हैं तो अरंडी के तेल से फर्टिलिटी मसाज लेकर देख सकती हैं। रोज इसके इसतेमाल से शरीर फर्टिलिटी पॉवर को मजबूत करने की कोशिश करता है।

अगर आप कंसीव करना चाह रही हैं लेकिन एक्टिव होकर ट्राई नहीं कर रही हैं तो आप हफ्ते में तीन दिन अरंडी के तेल की मालिश कर सकती हैं। 30 मिनट से लेकर डेढ़ घंटे तक मालिश करनी चाहिए। पीरियड्स में मालिश न करें।
अगर मासिक चक्र के दौरान प्रेगनेंट होना चाहती हैं तो ब्‍लीडिंग खत्‍म होने के बाद से लेकर ओवुलेशन के दिन तक मसाज करें। ओवुलेशन के बाद मालिश बंद कर दें।

​मालिश के लिए तैल कैसे करें तैयार
पेट को ढकने के लिए एक सूती कपड़ा लें। इसे एक कटोरी में डालें और उस पर अरंडी का तेल डालें।

कुछ मिनट के लिए इस कपड़े को तेल में ही भीगने दें। इस कपड़े को पेट पर लगाएं। हर बार कपड़ा डुबोते समय कटोरी में अरंडी का तेल डालती रहें।

​कब और कैसे लगाएं अरंडी का तेल
रात को सोने से पहले या शाम को आराम करते समय इस तेल से मालिश करें।
सूती कपड़े को तेल में भिगोकर उसे पेट पर लपेटना है। हल्‍के गुनगुने तेल का ही इस्‍तेमाल करें।
तेल का कपड़ा पेअ पर लगाने के बाद उस पर हीटिंग पैड रख सकती हैं। आमतौर पर आधे से डेढ़ घंटे तक मालिश करें। इस दौरान मन को शांत रखें या आप मेडिटेशन भी कर सकती हैं।

​इन बातों का रखें ध्‍यान
— फटी हुई स्किन पर मसाज न करें। अगर आप एक्टिव होकर प्रेगनेंट होने के लिए ट्राई कर रही हैं तो उन दो हफ्तों में मसाज न करें।
— वहीं मासिक धर्म के दौरान भी मालिश नहीं करनी चाहिए।
— एक्‍यूप्रेशर या नैचुरोपैथ स्‍पेशलिस्‍ट की सलाह पर ही अरंडी के तेल से मालिश शुरू करें। अपनी मर्जी से कोई नुस्‍खा न अपनाएं वरना आपको फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है।