मौसम विभाग ने एक बुलेटिन जारी कर कहा है कि चक्रवाती तूफान फेनी शुक्रवार अर्थात तीन मई को असम सहित पूर्वोत्तर के मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में दस्तक दे सकता है। जहां तक असम का सवाल है तो निचले असम में इसका अधिक प्रभाव देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग ने 80 किलोमीटर की रफ्तार से आँधी चलने की बात की भी भविष्यवाणी की है। इसके अलावा फेनी की वजह से अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में छिटपुट स्थानों पर बताई गई है।

इधर, राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (अनडीएमए) ने बुधवार को कहा कि भारत के पूर्वी तट की ओर बढ़ रहे  चक्रवाती तूफान फेनी के शुक्रवार को ओडिशा में पुरी के दक्षिण में स्थित गोपालपुरा और चांदबाली में दस्तक देने की संभावना है। एनडीएमए ने मौसम विभाग के बुलेटिन के हवाले से कहा है कि चक्रवाती तूफान फेनी के तीन मई को पुरी के दक्षिण में गोपालपुर और चांदबाली के बीच ओडिशा तट पर दस्तक देने की संभावना है। तटीय आंध्र प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, उप-हिमालई पश्चिम बंगाल और सिक्किम में छिटपुट स्थानों पर 40से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आंधी चलने की उम्मीद है। एनडीएमए के मुताबिक ओडिशा और पश्चिम बंगाल में भी कुछ स्थानों पर 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से आँधी चलने की संभावना है। अधिकारियों ने कहा कि चक्रवाती तूफान के आगे बढ़ने के मद्देनजर नौसेना और तटरक्षक जहाजों तथा हेलिकॉप्टरों, एनडीआरएफ की राहत टीमों को  कई स्थानों पर तैनात किया गया है जबकि थल सेना और वायूसेना इकाइयों को तैयार रखा गया है। राज्यों ने परामर्श जारी किया है  और यह सुनिश्चित किया जा रही है कि मछुआरे समुद्र में नहीं जाएं।