महाराष्‍ट्र में इन दिनों कोरोना वायरस के डेल्‍टा वेरिएंट के मामले सामने आ रहे हैं।  इस वेरिएंट के कारण कुछ मौतें भी हुई हैं।  मुंबई में भी हालात सामान्‍य नहीं हैं।  इन सबके बीच बृहन्‍मुंबई महानगर पालिका ने सोमवार को आदेश दिया है कि शहर के गार्डन, समुद्री बीच, मैदान और तटीय क्षेत्रों को सुबह 6 बजे से लेकर रात 10 बजे तक खोला जा सकेगा। 

इससे पहले महाराष्‍ट्र सरकार ने रविवार यानी 15 अगस्‍त से राज्‍य में नई कोरोना गाइडलाइंस जारी की हैं।  इनमें सभी मॉल्‍स, रेस्‍तरां को 50 फीसदी क्षमता के साथ रात 10 बजे तक खोलने की अनुमति दी गई है।  इसके साथ ही दुकानों को भी रात 10 बजे तक खोलने की मंजूरी दी गई है।  वहीं जिम और स्‍पा भी अब खुल रहे हैं।  फ्रंटलाइन हेल्‍थ वर्कर्स, आवश्यक सेवा से जुड़े लोगों और उन आम लोगों के लिए लोकल ट्रेन से यात्रा भी शुरू कर दी गई है, जिन्होंने कोविड वैक्सीन की दोनों डोज ले ली हैं और दूसरी डोज के बाद 14 दिन पूरे कर लिए हैं। 

वहीं महाराष्ट्र में इन दिनों कोरोना वायरस के प्रतिदिन 5 से 6 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं।  ये संख्या पिछले कुछ महीने के मुकाबले में बेहद कम है, लेकिन विशेषज्ञों की चिंता कम नहीं हुई है। कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट से राज्य में संक्रमण का खतरा लगातार बना हुआ है।  इस बीच डेल्टा प्लस वेरिएंट ग्रुप के तीन और अलग-अलग वायरस ने एक्सपर्ट्स की टेंशन बढ़ा दी है। 

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट से संक्रमित अब तक 66 मरीज मिले हैं और उनमें से पांच की मौत हो चुकी है।  मुंबई में अब तक डेल्टा प्लस वेरिएंट के 11 केस मिले हैं।  महानगर के पूर्वी इलाके में एक 63 साल की महिला की मौत हो गई।  इनके परिवार से 6 और लोग कोरोना से संक्रमित मिले हैं।