बॉलीवुड अभिनेत्री फातिमा सना शेख का कहना है कि खूबसूरती का हवाला दे उन्हें कई बार फिल्मों से रिजेक्ट किया गया था। हाल ही एक इंटरव्यू में उन्होंने खुलासा किया कि कैसे उन्हें फिल्म की हीरोइन बनने के लिए योग्य नहीं समझा गया चूंकि वह दीपिका पादुकोण और ऐश्वर्या राय जैसी नहीं दिखती थीं। साथ ही फातिमा सना शेख ने यौन शोषण से लेकर कास्टिंग काउच के बारे में भी बात की।

जानकारी के अनुसार फातिमा ने बताया कि उन्हें कई बार कहा गया कि वे कभी अभिनेत्री नहीं बन पाएंगी। चूंकि तुम दीपिका पादुकोण और ऐश्वर्या राय जैसी नहीं दिखती हो। तुम कैसे हीरोइन बनोगी? इस तरह लोगों ने उन्हें नीचा दिखाया, लेकिन अब जब मैं पीछे मुडकऱ देखती हूं तो मुझे लगता है कि वह काफी सही था। यह सुंदरता का मानक है कि एक हीरोइन बनने के लिए ऐसा होना चाहिए।

फातिमा सना शेख के मुताबिक उन्होंने अपने करियर के शुरुआती दिनों में सेक्सिज्म का सामना किया। उन्होंने यह खुलासा किया कि समाज में सेक्सिज्म इतना ज्यादा है कि जब मैं तीन साल की थी, तब मेरे साथ छेड़छाड़ की गई थी। मेरा ऐसे लोगों से सामना हुआ है जिन्होंने मुझसे कहा कि नौकरी पाने का एकमात्र तरीका सेक्स है। इस कारण कई बार ऐसा हुआ है कि मेरे हाथ से फिल्मों में काम करने के कई मौके निकल गए। गौरतलब है कि फातिमा सना शेख जल्द ही लूडो और सूरज पे मंगल भारी में नजर आएंगी। उन्होंने आमिर खान की फिल्म दंगल के साथ अपना डेब्यू किया था।