बिना फास्टैग वाली गाड़ियों को बड़ी राहत दी गई है कि अब 15 फरवरी तक टोल टैक्स कैश में दे सकेंगे। अब आप 15 फरवरी तक अपनी गाड़ियों में फास्टैग लगवा सकेंगे। एनएचएआई ने लोगों को फास्टैग मिलने में आ रही दिक्कतों को देखते हुए ये फैसला लिया है। पहले देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने पर टोल चुकाने के लिए 1 जनवरी 2021 से गाड़ियों में फास्टैग अनिवार्य करने का ऐलान किया गया था।
एनएचएआई ने ऐलान किया था कि 1 जनवरी 2021 से देश के सभी एनएचएआई टोल प्लाजा कैश की जगह फास्टैग लेन में तब्दील हो जाएंगेण् अगर कोई भी बिना फास्टैग के टोल प्लाजा पर पहुंचा तो उसे दोगुना टोल चुकाना होगा। लेकिन अब लोगों को फास्टैग लेने और लगवाने के लिए मोहलत मिल गई है। बगैर फास्टैग वाले वाहन अब 15 फरवरी तक नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा से कैश पेमेंट कर सकेंगे। फिलहाल फास्टैग के जरिए टोल प्लाजा से कलेक्शन 75.80 परसेंट है।

फास्टैग दो तरह के होते हैं। एक होता है एनएचएआई के टैग वाला और दूसरा होता है जो बैंकों से लिया गया हो। 1 दिसंबर 2017 के बाद से जो भी गाड़ियां खरीदी गई हैं। उनमें यह पहले से फिट होकर आता है। अगर आपने इसके पहले कार खरीदी है तो आपको फास्टैग अलग से खरीदना होगा। टू-व्हीलर को छोड़कर कार, बस, ट्रक या दूसरे निजी और कॉमर्शियल वाहनों को टोल प्लाजा से गुजरते समय फास्टैग अनिवार्य रूप से लगवाना होगा।