जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने कश्मीर घाटी में कोविड-19 के खिलाफ जंग से निपटने के लिए संसद सदस्य स्थानीय क्षेत्र विकास (एमपीलैड) निधि से 1.40 करोड़ रुपए जारी किए। कश्मीर घाटी में शुक्रवार को 3575 नए कोरोना मामले सामने आए और 21 और मरीजों की मौत हो गयी। 

श्रीनगर निर्वाचन क्षेत्र के सांसद डॉ. अब्दुल्ला ने उपायुक्त (डीसी) मोहम्मद एजाज असद को लिखे एक पत्र में कहा, ''कश्मीर घाटी में कोरोना खतरनाक तरीके से फैल रहा है, मुझे लगता है कि हाल ही में भारत सरकार द्वारा जारी एमपीलैड धनराशि का उपयोग मुझे मेरे संसदीय क्षेत्र के अधिकार क्षेत्र में आने वाले अस्पतालों में मुख्य रूप से कोविड मरीजों की देखभाल सुविधाओं को बेहतर बनाने की दिशा में करना चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, 'इस संबंध में मैं वर्ष 2021-22 के लिए अपने एमपीलैड निधियों में से तीन अस्पतालों और स्वास्थ्य सेवा निदेशालय (डीएचएस), कश्मीर को धन जारी करने की सलाह देता हूं।' नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष ने पत्र की प्रति यहां प्रेस को जारी करते हुए बताया कि उन्होंने डीएचएस कश्मीर के लिए 50 लाख, सरकारी क्षय रोग अस्पताल श्रीनगर, सरकार एसएमएचएस अस्पताल श्रीनगर, और एस के इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (एसकेआईएमएस) मेडिकल कॉलेज के लिए 30-30 लाख रुपए जारी किए।