फेसबुक एक नया फीचर लेकर आ रही है। यह फीचर फेक न्यूज और अफवाहों को कंट्रोल में करने के मकसद से लाया जा रहा है। आने वाले समय में आप अगर कोई आर्टिकल शेयर करेंगे तो आपको एक पॉप अप मिलेगा।

आर्टिकल शेयर करने से पहले दिए गए पॉप अप में आपसे पूछा जाएगा कि आपने वो आर्टिकल पढ़ा है या नहीं। आपको बता दें कि फेसबुक को दूसरे ऐप्स और सर्विस के फीचर्स कॉपी करने के लिए जाना जाता है। ये फीचर भी पहले से ट्विटर में आ चुका है।

Twitter पर अगर आप कोई आर्टिकल रीट्वीट करते हैं तो आपसे ये कहा जाता है कि आप पहले इसे पढ़ लें। हालांकि आप उसे पढ़ने को बाध्य नहीं हैं, लेकिन फिर भी आपको एक तरह का रिमाइंडर दिया जाता है कि शेयर करने से पहले मेक श्योर कर लें कि आप जो शेयर कर रहे हैं उससे भ्रम न फैले।

ठीक इसी तरह का फीचर अब फेसबुक टेस्ट कर रहा है। फेसबुक के मुताबिक ये फीचर दुनिया भर के 6% एंड्रॉयड फेसबुक यूजर्स के लिए जारी किया गया है। ऐसा इसलिए, क्योंकि ये फीचर अभी भी टेस्टिंग फेज में है।

फेसबुक ने कहा है कि इस नए पॉप अप फीचर से यूजर्स को शेयर करने से पहले उसके बारे में बेहतर आईडिया मिलेगा। इस तरीके से भी सोशल मीडिया पर फैलाए  जा रहे फेक न्यूज और अफवाहों से बचा जा सकता है।

ये फीचर एक तरह से अच्छा है, क्योंकि जब भी आप फेसबुक या ट्विटर पर कोई न्यूज शेयर या रीट्वीट कर रहे होंगे तो कंपनी आपको उसे पढ़ने के लिए कहेगी।

इसका फायदा ये भी होगा कि क्लिक बेट वाले आर्टिकल शेयर करने से बच जाएंगे। कई बार क्लिक बेट वाले आर्टिकल की हेडिंग काफी सनसनीखेज होती है, लेकिन अंदर उस हिसाब से कंटेंट नहीं होता है। इसलिए पढ़ कर शेयर या रीट्वीट करने से इससे बचा जा सकता है।