गुवाहाटी में एक कौशल विकास केंद्र की स्थापना के उद्देश्य से सिंगापुर के विदेश मामलों के मंत्री मोहम्मद मालिकी बिन उस्मान 18 जुलाई को तीन दिवसीय असम दौरे पर आएंगे। नई दिल्ली में भारत-आसियान देशों के बीच आयोजित नौंवी दिल्ली संवाद के तहत मंगलवार शाम सिंगापुर के रक्षा एवं विदेश मामलों के मंत्री उस्मान और सिंगापुर के उच्चायुक्त लिम थ्वान कुवान के साथ मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल की आधे घंटे तक हुई बैठक के आधार पर मुख्यमंत्री कार्यालय से इस आशय की जानकारी दी गई है। 

बयान के अनुसार कल की इस बैठक में असम और सिंगापुर के बीच वाणिज्य और आर्थिक संभावनाओं को दोनों पक्षों के विकास का रास्ता निकालने की मुख्यमंत्री सोनोवाल ने सिंगापुर के विदेश मामलों के मंत्री से आग्रह किया। इसी आग्रह के जवाब में वे अगले 18 जुलाई से तीन दिवसीय असम दौरे पर आने की इच्छा जताई है। बैठक में मुख्यमंत्री सोनोवाल ने असम और सिंगापुर के बीच ढांचागत विकास, पर्यटन, तेल एवं प्राकृतिक गैस, सूचना प्रौद्योगिकी आदि विभिन्न क्षेत्रों में आपसी सहयोग के जरिए आर्थिक रूप से लाभान्वित होने की संभावनाओं पर प्रकाश डाला।

 इसके अलावा मुख्यमंत्री ने सिंगापुर की तकनीकी कुशलता एवं पारदर्शी व्यक्तियों की मदद से गुवाहाटी को सूचना तकनीक का हब बनाने के लिए सिंगापुर के दूतावास की स्थापना के लिए भी पहल करने के लिए उन्हें अपील की ताकि इस इलाके के लोगों को सिंगापुर की सुविधाएं मिल सकें।