अगर आप पूरी तरह से सुरक्षित निवेश की तलाश में हैं यानी आपको अपने निवेश पर किसी प्रकार का कोई जोख़िम नहीं चाहिए तो पोस्ट ऑफिस आपके लिए बेहतर​ विकल्प साबित हो सकता है। पोस्ट ऑफिस स्कीम्स में आपको बेहतर रिटर्न भी मिलता है। पोस्ट ऑफिस की स्मॉल सेविंग स्कीम बेहतर होती हैं। इसमें कम लागत के साथ निवेश करने पर मोटी कमाई हो जाती है। ऐसे ही पोस्ट ऑफिस की एक स्कीम का नाम है –पोस्ट ऑफिस रिकरिंग डिपॉजिट। इसमें आपको बेहतर रिटर्न मिलता है।

कुल मिलाकर इस स्कीम के जरिए आप बहुत कम पैसों के साथ निवेश की शुरुआत कर सकते हैं। इसमें इसके अलावा आपके पैसे भी पूरी तरह से सुरक्षित रहेंगे। इसमें आप 100 रुपये महीने से निवेश कर सकते हैं। अधिक से अधिक की कोई लिमिट नहीं हैष आप कितना भी निवेश कर सकते हैं। पोस्ट ऑफिस RD डिपॉजिट अकाउंट बेहतर ब्याज दर के साथ छोटी किस्तों जमा करने की एक सरकार की गारंटी योजना है।

पोस्ट ऑफिस में जो RD अकाउंट ओपन होता है वो 5 साल के लिए होता है। इससे कम समय के लिए नहीं खुलता। हर तिमाही (सालना रेट पर) जमा धन पर ब्याज का कैलकुलेशन किया जाता है। फिर इसे हर तिमाही के आखिरी में आपके अकाउंट में चक्रवृद्धि ब्याज (compound interest) के साथ जोड़ दिया जाता है। इंडिया पोस्ट ऑफिस की वेबसाइट के मुताबिक, RD स्कीम पर मौजूदा समय में 5.8 फीसदी ब्याज दी जा रही है। केंद्र सरकार हर तिमाही अपनी सभी स्मॉल सेविंग स्कीम्स (small saving schemes) में हर तिमाही ब्याज दर की घोषणा करती है।

अगर आप हर महीने पोस्ट ऑफिस की RD स्कीम में 10 हजार रुपए का निवेश करते हैं, वो भी 10 साल के लिए, तो उसे मेच्योरिटी पर 16,26,476 लाख रुपये मिलेंगे। अगर आप समय से RD की किस्त नहीं जमा करते हैं तो आपको जुर्माना देना होगा। किस्त में देरी होने पर आपको हर महीने एक फीसदी जुर्माना देना होगा। इसके साथ ही अगर आपने लगातार 4 किश्तें नहीं जमा की तो आपका अकाउंट बंद हो जाएगा। हालांकि अकाउंट बंद होने पर इसे अगले 2 महीने के लिए फिर से एक्टिवेट किया जा सकता है।