मेघालय विधानसभा के अध्यक्ष डाॅ. डोनकुपर राॅय का राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के एक निजी अस्पताल में निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे। आपको बता दें कि डाॅ. डोनकुपर राॅय को पेट की जुड़ी बीमारियों के इलाज के लिए 18 जुलाई को दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरूग्राम में एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था।


उन्होंने रविवार को दोपहर बाद 2 बजकर 50 मिनट पर अंतिम सांस ली। डाॅ. डोनकुपर राॅय युनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के अध्यक्ष थे। उनकी पार्टी मेघालय में सत्तारुढ मेघाालय डेेमोक्रेटिक गठबंधन में शामिल है। वह मार्च 2018 में मेघालय विधानसभा के अध्यक्ष चुने गये थे।

प्रधानमंत्री ने जताया शोक

डाॅ. डोनकुपर राॅय के निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गहरा शोक प्रकट किया है। ट्विटर पर मोदी ने मेघालय के बारे में भावुक होकर कहा कि डाॅ. राॅय ने बड़े परिश्रम से राज्य की सेवा की और कई लोगों का जीवन बदलने में मदद की। उनके परिवार और समर्थकों के प्रति मैं संवेदना व्यक्त करता हूं। वहीं मेघालय के राज्यपाल तथागत राॅय ने ट्विटर पर लिखा है कि राॅय की असामयकि मृत्यु के बारे में जानकर गहरा दुख हुआ है।




मेघालय के मुख्यमंत्री कोनराड के संगमा ने डाॅ. डोनकुपर राॅय के निधन गहरा शोक प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि राॅय का निधन राज्य के लिए बड़ी क्षति है। हमने एक मार्गदर्शक और जनता की भलाई हेतु सदैव तत्पर रहने वाले महान शख्स को खोया है। राज्य ने एक पथप्रदर्शक और जनसेवा को समर्पित व्यक्तित्व खो दिया है।


हिमंता बिस्वा शर्मा ने किया ट्वीट