प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने गुरुवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और उनकी पत्नी रुजीरा को कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाले की जांच में शामिल होने के लिए तलब किया। एजेंसी ने बनर्जी और उनकी पत्नी को 21-22 मार्च को जांच में शामिल होने को कहा है।

ये भी पढ़ेंः सावधान : होली पर कैशबैक ऑफर्स के नाम पर हो रही धोखाधड़ी , सरकार ने जारी किया अलर्ट


अभिषेक बनर्जी ने 6 सितंबर, 2021 को ईडी अधिकारियों के सामने अपना बयान दर्ज कराया था। करीब छह घंटे तक उनसे पूछताछ की गई, लेकिन जांच एजेंसी संतुष्ट नहीं हुई और इसलिए उन्हें अपनी पत्नी के साथ फिर से तलब किया। सितंबर 2021 में, दंपति ने अपने वकील के माध्यम से ईडी के समन के खिलाफ दिल्ली उच्च न्यायालय के समक्ष एक याचिका दायर की थी। लेकिन उनकी याचिका को अदालत ने 11 मार्च को खारिज कर दिया था।

ये भी पढ़ेंः MS Dhoni ने किया बड़ा खुलासा! सबके सामने बताया कौन है उनके जीवन में नंबर-1


दंपति ने अपनी याचिका में कहा कि वे पश्चिम बंगाल में निवास करते हैं और उन्होंने इस आधार पर राहत मांगी है। ईडी की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने उनकी दलील को चुनौती दी थी।उन्होंने अदालत को बताया कि ईडी पीएमएलए के तहत किसी क्षेत्र में सीमित नहीं है। इस मामले की जांच सीबीआई और ईडी कर रही है। दोनों एजेंसियां समानांतर जांच कर रही हैं। सीबीआई का मामला पिछले साल नवंबर में दर्ज किया गया था।