बिहार के छपरा मे कोरोना टीकाकरण को लेकर लापरवाही का मामला सामने आया है। दरअसल एक युवक को टीकाकरण के नाम पर एनमने खाली इंजेक्शन युवक को लगा दिया। इस बात का अंदाजा युवक को नहीं था और वह वैक्सीनेशन हो जाने की खुशी में वैक्सीनेशन सेंटर से निकलकर घर की ओर बढ़ा। 

बाद में उसके दोस्तों ने वैक्सीनेशन कराते वक्त की वीडियो को ध्यान से देखा तो वैक्सीनेशन सेंटर के एनम की लापरवाही साफ नजर आई। यह मामला छपरा शहर के वार्ड नम्बर एक के उर्दू माध्यमिक स्कूल ब्रहमपुर इमामबाड़ा का है। यहीं पर टीकाकरण केंद्र बनाया गया है जिस पर 21 जून 2021 को कोविड वैक्सीन के नाम पर लोगों को ख़ाली सीरिंज लगाने की लापरवाही का मामला सामने आया है।

वैक्सीनेशन कराने गए ब्रह्मपुर निवासी अजहर हुसैन की वीडियो मे साफ तौर पर दिखाई दे रहा है कि महिला स्वस्थ्य कर्मी ने सीरींज का पैकेट फाड़कर खाली सीरींज अजहर को लगा दी। वीडियो अजहर के दोस्त अमन खान ने बनाई है। अजहर हुसैन ने  बताया कि मेरा दोस्‍त वीडियो बना रहा था। शाम को जब मैंने वीडियो देखा तो पता चला कि मुझे खाली सीरिंज लगाया गया है, इसमें वैक्‍सीन तो भरा ही नहीं गया। 

इस मामले के संबंध मे जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. मेजर अजय कुमार ने कहा कि घटना सही है। एएनएम से स्पष्टीकरण मांगते हुये कार्य से अलग कर दिया गया है स्वास्थ्य कर्मियों के इस गैर जिम्मेदाराना हरकत से दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीनेशन प्रोग्राम पर सवाल खड़े हो रहे हैं। आरोप सिद्ध होने पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. अजय कुमार शर्मा ने नर्स को तुरंत निलंबित कर दिया।