भारतीय सेना के दो हेलीकाप्टरों को तकनीकी गड़बड़ी के कारण आपात स्थिति में उत्तरी लखीमपुर जिले में बिहपुरिया स्थित एक कालेज के मैदान पर उतार लिया गया। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि घटना दोपहर करीब 13.48 बजे उस समय हुई , जब सेना के दोनों हेलीकाप्टर मिसामारी से फिनीश जा रहे थे। इसी दौरान एक हेलीकाप्टर में तकनीकी गड़बड़ी उत्पन्न हो गयी, जिसके बाद दोनों हेलीकाप्टरों को आपात स्थिति में उतार लिया गया। उन्होंने बताया कि दोनों हेलीकाप्टर और उसके चालक सुरक्षित हैं।

बता दें कि इसी साल फरवरी में असम में एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया था। इस हादसे में 2 पायलटों की मौत हो गई। ये घटना माजूली जिले के बारदुआ कापोरी क्षेत्र में घटी थी। बता दें कि माइक्रोलाइट एयरक्रॅफ्ट हेलीकॉप्टर भारतीय वायु सेना का था और जोरहट एयरफोर्स स्टेशन से अपनी रोजाना की उड़ान पर था। हेलीकॉप्टर माजूली नदी के किनारे दुर्घटना का शिकार हो गया। हेलीकॉप्टर में सवार दोनों पायलट को काफी चोटें आईं, जिससे उनकी मौत हो गई। इससे पहले 14 जनवरी को अरब सागर के पास पवन हंस हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था, जिसमें 6 लोग मारे गए। मारे गए लोगों में ओएनजीसी के 5 अधिकारियों के अलावा एक पायलट भी शामिल था।