नई दिल्ली। सुर्खियों में रहने वाले एलन मस्क (Elon Musk) ने बड़ा ऐलान किया है। बुधवार सुबह इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला और स्पेसएक्स के मालिक मस्क ने कुछ ऐसा ही ट्वीट किया है। मस्क ने ट्वीट किया कि वे मशहूर फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड (Manchester United) को खरीद रहे हैं। हालांकि, उन्होंने मसखरी में यह बात कही। अपने ट्वीट में उन्‍होंने लिखा, 'मैं मैनचेस्टर यूनाइटेड को खरीद रहा हूं। आपका स्वागत है।' इसके अलावा इस सौदे पर उन्होंने कोई जानकारी नहीं दी। मस्क ने यह भी नहीं बताया कि इस डील को आगे बढ़ाने की उनकी क्या योजना है। हम सब जानते हैं कि एलन मस्क इस समय ट्विटर के साथ डील तोड़ने के बाद कोर्ट के चक्कर लगा रहे हैं। उन्होंने 44 अरब डॉलर में ट्विटर को खरीदने की घोषणा की थी। हालांकि, बाद में उन्होंने इस डील को तोड़ दिया।

ये भी पढ़ेंः 'हर घर तिरंगा' अभियान, 6 करोड़ से अधिक तिरंगा सेल्फी अपलोड हुए : केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय

बता दें कि मैनचेस्टर यूनाइटेड का कंट्रोल अमेरिकन ग्लेजर फैमिली के पास है। मंगलवार के आंकड़े के अनुसार, इस फुटबॉल क्लब का बाजार पूंजीकरण 2.08 अरब डॉलर था। बता दें कि मैनचेस्टर यूनाइटेड के प्रशंसकों ने हाल के वर्षों मे ग्लेजर्स के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किये हैं। ग्लेजर फैमिली ने इस क्लब को साल 2005 में 790 मिलियन पाउंड (86 करोड़ डॉलर) में खरीदा था। ग्लेजर के खिलाफ प्रदर्शनों में पिछले साल तेजी आई थी। ट्विटर के साथ डील तोड़ने के चलते एलन मस्क को इन दिनों कोर्ट के चक्कर भी काटने पड़ रहे हैं। मस्क ने ट्विटर डील तोड़ने के पीछे भारत का कनेक्शन भी बताया है। उन्होंने कोर्ट को बताया कि ट्विटर भारत सरकार के खिलाफ जोखिम भरे मुकदमे का खुलासा करने में विफल रही। मस्क ने साथ ही यह दावा भी किया कि ट्विटर ने भारत सरकार के खिलाफ जाकर दुनिया के तीसरे सबसे बड़े बाजार को खतरे में डाल दिया था।

ये भी पढ़ेंः भारत में झमाझम बारिश, वहीं आसमानी आग से जल रहा है पड़ोसी देश चीन, जानें पूरा मामला

दुनिया के इस सबसे बड़े रईस ने डेलावेयर अदालत में एक काउंटरसूट में यह दावा भी किया था कि ट्विटर ने उन्हें कई चीजों के बारे में अंधेरे में रखा। डील के समय उन्हें भारत में चल रहे डेवलपमेंट के बारे में नहीं बताया गया था। कोर्ट के दस्तावेजों के अनुसार, मस्क ने कहा कि ट्विटर को भारत में स्थानीय कानून का पालन करना चाहिए। वहीं, ट्विटर ने कोर्ट को बताया है कि मस्क के पास कंपनी के बारे में पूरी जानकारी थी।