अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर को लेकर काफी चिंतित हैं। यह जानकारी व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव ने दी। ट्विटर ने सोमवार को जारी एक बयान में कहा कि अरबपति व्यवसायी एलन मस्क ने ट्विटर को लगभग 44 अरब डॉलर में खरीदने का सौदा किया है, जिसके बाद न्यूयॉर्क शेयर बजार से सोशल मीडिया दिग्गज हट जाएंगे और यह एक निजी कंपनी बन जाएगी। 

ये भी पढ़ेंः ट्रेन का टिकट बुक कराने वाले हो जाएं सावधान, इतने घंटे नहीं चलेगी IRCTC की वेबसाइट


व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव साकी ने कहा, मैं इस विशिष्ट लेनदेन पर टिप्पणी नहीं करने जा रही हूं। मैं आपको बता सकती हूं कि ट्विटर का मालिक चाहे कोई भी हो, राष्ट्रपति लंबे समय से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की शक्ति के बारे में चिंतित हैं। उन्होंने कहा कि बाइडेन एकाधिकारी व्यापार विरोधी सुधारों के प्रबल समर्थक रहे हैं, जिन्हें बड़े मीडिया प्लेटफार्मों से अधिक पारदर्शिता की आवश्यकता होगी। उल्लेखनीय है कि मस्क ने इससे पहले तीन अरब डॉलर में ट्विटर में 9.1 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी।

ये भी पढ़ेंः पंजाबः भाजपा नेता ने जहर खाकर किया सुसाइड, माफी के साथ सुसाइड नोट में लिखी ऐसी दर्दनाक कहानी


वहीं मस्‍क ने डील फाइनल होने के बाद दो ट्वीट किए जिनसे उनके रुख का इशारा मिलता है। पहला ट्वीट सोमवार रात 9.42 पर आया। मस्‍क ने लिखा, 'मुझे उम्‍मीद है कि मेरे बुरे से बुरे आलोचक भी ट्विटर पर रहें क्‍योंकि फ्री स्‍पीच का यही मतलब है।' एक और विस्‍तृत ट्वीट तड़के 1.13 पर आया। मस्‍क ने इसमें कहा कि 'फ्री स्‍पीच किसी भी डिमॉक्रेसी का आधार है, और ट्विटर डिजिटल टाउन स्‍क्‍वायर है जहां मानवता के भविष्‍य से जुड़े मसलों पर चर्चा होती है। मैं ट्विटर को और बेहतर बनाना चाहता हूं। इसके लिए नए फीचर्स लाएंगे, भरोसा बढ़ाने को एग्‍लोरिद्म को ओपन सोर्स करेंगे, स्‍पैम बॉट्स को हराएंगे और सभी इंसानों को ऑथेंटिकेट करेंगे।