जितेंद्र इलेक्ट्रिक के लगभग 40 इलेक्ट्रिक व्हीकल में आग लग गई। यह हादसा उस वक्त समय जब फैक्ट्री से ई-स्कूटर को ईवी कंटेनर में ले जाया जा रहा था। आग की इस घटना में 20 स्कूटर पूरी तरह जलकर खाक हो गए। ई-स्कूटर में आग लगने की लगातार छठी घटना है।

यह भी पढ़ें : त्रिपुरा बजट : डॉ अजय कुमार ने बीजेपी पर लगाया आरोप , सरकार आदिवासी इलाकों को कर रही है वंचित

अब इलेक्ट्रिक व्हीकल्स में आग लगने की इन घटनाओं ने सुरक्षा को लेकर चिंता बढ़ा दी है। ऐसे में सरकारी अधिकारियों ने इस घटना को लेकर कहा कि वे जितेंद्र ईवी के इलेक्ट्रिक स्कूटर में आग लगने की घटना से अवगत हैं और कंपनी के अधिकारियों को रिपोर्ट देने के लिए बुलाएंगे।

इस घटना को लेकर जितेंद्र इलेक्ट्रिक व्हीकल ने कहा कि उन्होंने आग के कारणों का पता लगाने के लिए जांच शुरू की है। कंपनी के मुताबिक 9 अप्रैल को हमारे कारखाने के गेट के पास एक स्कूटर में एक दुर्भाग्यपूर्ण घटना हुई। हमारी टीम के समय पर कदम उठाने से स्थिति को तुरंत नियंत्रित कर लिया गया। हम आग लगने के कारण की जांच कर रहे हैं और जल्द ही निष्कर्ष निकालेंगे।

यह भी पढ़ें : गुवाहाटी में लोकसभा अध्यक्ष बिड़ला बोले - सावधानीपूर्वक बहस के बाद कानून बनाया जाना चाहिए

इसके अलावा, परिवहन मंत्रालय पहले ही ओकिनावा और ओला ईवी के वरिष्ठ अधिकारियों को उनके स्कूटर में आग की घटना पर सफाई और जांच रिपोर्ट देने के लिए कहा है। इसके बाद इस तरह की घटनाओं को रोकने के लिए कदम उठाएं जाएंगे।