मई और जून में अगर कोरोना का असर रहा तो नौ माह का मांगलिक लॉकडाउन लग जाएगा, यानी 9 माह तक शादी—ब्याह सहित अन्य मांगलिक कार्य नहीं हो पाएंगे। जून तक शादी—ब्याह की बुकिंग रद्द हो चुकी है। एक जुलाई को देवशयनी एकादशी पर देव सो जाएंगे, जो 28 नवंबर को देव उठनी एकादशी पर उठेंगे। इस बीच करीब पांच माह तक सभी तरह के मांगलिक कार्यों पर रोक रहेगी। सिर्फ नवंबर और दिसंबर में 3—3 सावे है। इसके बाद गुरु और शुक्र अस्त का साया शादियों में खलल डालेंगे। ऐसे में अगले साल 24 अप्रेल, 2021 को पहला विवाह मुहूर्त आएगा।

ज्योतिषाचार्य डॉ. रवि शर्मा ने बताया कि कोरोना वायरस का असर मई—जून के सावों में खलल डालेगा। इस बीच 31 मई को शुक्र अस्त हो रहे है, जो आठ जून तक अस्त रहेंगे। इसके बाद इस बार पांच माह के चातुर्मास और आश्विन अधिकमास यानी पुरुषोत्तम मास रहेगा। एक जुलाई को देवशयनी एकादशी के साथ ही देव सो जाएंगे, जो 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी पर उठेंगे। इसके चलते इस साल पांच माह फि र शादी-ब्याह सहित अन्य मांगलिक कार्यों पर ब्रेक लग जाएंगे। अगले साल 15 जनवरी 2021 को गुरु अस्त हो जाएंगे, जो 12 फरवरी 2021 तक अस्त रहेंगे। इसके बाद 17 फरवरी, 2021 से 19 अप्रेल, 2021 तक फिर शुक्र अस्त रहेगा। ऐसे में अगले साल पहला विवाह मुहूर्त 24 अप्रेल को आएगा।

19 साल बाद श्राद्ध पक्ष और नवरात्र में एक माह का अंतर

ज्योतिषाचार्य शालिनी सालेचा ने बताया कि इस बार श्राद्ध पक्ष और शारदीय नवरात्र के बीच एक माह का अंतर रहेगा। इस बार श्राद्ध पक्ष 2 सितंबर से 17 सितंबर तक रहेगा, इसके बाद 18 सितंबर से 16 अक्टूबर तक आश्विन अधिकमास रहेगा, जिसे पुरुषोत्तम मास भी कहा जाता है। इसके ठीक बाद 17 अक्टूबर से शारदीय नवरात्र शुरू हो जाएंगे। इससे पहले साल 2001 में आश्विन अधिकमास आया है। यानी 19 साल बाद आश्विन अधिक मास आएगा।

मांगलिक कार्यों पर लॉकडाउन

-31 मई, 2020 से 08 जून 2020 - शुक्र अस्त दोष

-1 जुलाई, 2020 से 25 नवंबर 2020 - कर्क संक्रांति-तुला संक्रांति-देवशयन दोष

-21 जून, 2020 - सूर्य ग्रहण दोष

-17 सितंबर, 2020 से 16 अक्टूबर, 2020 - अधिकमास दोष

-2 सितंबर, 2020 से 17 सितंबर, 2020 - श्राद्ध पक्ष दोष

-15 दिसंबर, 2020 से 14 जनवरी, 2021 - धनु (खरमास) मलमास दोष

-15 जनवरी 2021 से 12 फऱवरी 2021 - गुरु अस्त दोष

-17 फरवरी, 2021 से 19 अप्रेल 2021 - शुक्र अस्त दोष

-21 मार्च 2021 से 28 मार्च, 2021 - होलाष्टक दोष

-14 मार्च, 2021 से 14 अप्रेल, 2021 - मीन (खरमास) मलमास दोष

इन सावों पर पड़ी मार

विवाह मुहूर्त 2020

20 अप्रेल - 07 रेखा

27 अप्रेल - 08 रेखा

01 मई - 07 रेखा

02 मई - 08 रेखा

04 मई - 09 रेखा

05 मई - 08 रेखा

17 मई - 07 रेखा

18 मई - 09 रेखा

19 मई - 09 रेखा

24 मई - 08 रेखा

29 मई - 08 रेखा

13 जून - 08 रेखा

15 जून - 08 रेखा

30 जून - 09 रेखा

25 नवम्बर - 08 रेखा

27 नवंबर — 07 रेखा

30 नवंबर - 08 रेखा

07 दिसंबर - 08 रेखा

09 दिसंबर - 08 रेखा

10 दिसंबर — 07 रेखा