शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत की पत्नी वर्षा राउत को पीएमसी बैंक धोखाधड़ी मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने फिर पूछताछ के लिए बुलाया है। एजेंसी ने उन्हें 11 जनवरी को पूछताछ के लिए बुलाया है। जांच से जुड़े ईडी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, हमने वर्षा राउत को 11 जनवरी को एजेंसी के सामने पेश होने के लिए कहा है।

वर्षा राउत 4 जनवरी को ईडी के सामने इसी मामले में पेश हो चुकी हैं और अपना बयान दर्ज करवा चुकी हैं। ईडी के सूत्रों के मुताबिक, 2010 और 2011 में वर्षा राउत के बिजनेस पार्टनर रही माधुरी राउत ने उनके खाते में ब्याज मुक्त ऋण के रूप में 55 लाख रुपये ट्रांसफर किए थे। माधुरी राउत पर एचडीआईएल केस में मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है।

सूत्र ने आगे कहा कि वर्षा राउत से अवनी कंस्ट्रक्शन में माधुरी राउत के साथ उनकी साझेदारी और 12 लाख रुपये के प्राप्त धन राशि के बारे में भी पूछताछ की जाएगी। ईडी के सूत्रों के अनुसार, वर्षा राउत की 12 लाख रुपये की ऋण राशि अभी भी बकाया है। इससे पहले, वर्षा राउत से ईडी की पूछताछ को लेकर शिवसेना ने बड़ा राजनीतिक बखेरा खड़ा किया था, जब सत्तारूढ़ महागठबंधन के सहयोगी दलों और भारतीय जनता पार्टी के बीच जमकर बयानबाजी हुई थी। संजय राउत ने केंद्र पर ईडी, सीबीआई और इनकम टैक्स जैसी केंद्रीय जांच एजेंसियों के दुरुपयोग और राजनीतिक विरोधियों को परेशान करने का आरोप भाजपा पर लगाया था।