प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा गिरफ्तार यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर के खिलाफ धनशोधन के मामले में एजेंसी की जांच का दायरा बढ़ता जा रहा है। ईडी अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा द्वारा कपूर को दो करोड़ रुपये में बेची गई राजीव गांधी की उस पेंटिंग के बारे में भी जांच कर रही है जिसे विख्यात पेंटर एम. एफ. हुसैन ने बनाया था। हालांकि कांग्रेस के नेताओं ने भारतीय जनता पार्टी की आलोचना करते कहा है कि प्रियंका द्वारा आयकर रिटर्न में इसका जिक्र किए जाने के बाद इस संबंध में निराधार सवाल किए जा रहे हैं।

ईडी के अधिकारियों के अनुसार, महाराष्ट्र के कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने एक मई 2010 को कपूर को पत्र लिखकर पेंटिंग खरीदने के लिए सीधे प्रियंका गांधी से संपर्क करने को कहा था। प्रियंका गांधी के पिता और पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की यह तस्वीर जून 2010 में राणा कपूर को बेची गई थी। ईडी के एक अधिकारी ने बताया कि प्रियंका द्वारा कपूर को बेची गई पेंटिंग की जांच की जाएगी क्योंकि बेचने से पहले पेटिंग की कीमत नहीं लगाई गई थी। अधिकारी ने बताया कि यह पेंटिंग तत्कालीन प्रधानमंत्री को 1985 में कांग्रेस के शतवार्षिक सम्मेलन में उपहार के तौर पर दी गई थी, इसलिए यह पार्टी की संपत्ति थी।

प्रियंका गांधी ने दो करोड़ रुपये का चेक उनको भेजने पर चार जून 2010 को पावती पत्र कपूर को लिखा था। उन्होंने कपूर को लिखे अपने पत्र में कहा, ‘‘एम. एफ. हुसैन द्वारा बनाई गई मेरे पिता राजीव गांधी की पेंटिंग खरीदने के लिए आपका आभार। यह पेंटिंग उनको 1985 में कांग्रेस पार्टी के शतवार्षिक समारोह में उपहार के रूप में दी गई थी जो इस समय मेरे पास है।’’ अपने पत्र में उन्होंने पेटिंग की कीमत के रूप में चेक प्राप्त करने की बात भी स्वीकार की थी। प्रियंका ने यह भी कहा था कि उनको आशा है कि कपूर इस कृति के ऐतिहासिक महत्व से अवगत होंगे और इसे इसके महत्व के साथ इस्तेमाल करेंगे।

ईडी के अधिकारी ने बताया कि राजीव गांधी की तस्वीर के अलावा एजेंसी यह भी जांच कर रही है कि अन्य कीमती पेंटिंग कपूर ने किनसे खरीदी थी। ईडी की जांच में रविवार को खुलासा हुआ कि कपूर के पास 40 से अधिक कीमती पेटिंग हैं। उधर, कांग्रेस नेताओं ने यस बैंक घोटाला के साथ प्रियंका का नाम जोडऩे को लेकर भाजपा की आलोचना की। कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला ने सोमवार को पार्टी मुख्यालय पर कहा, ‘‘प्रियंका गांधी को पैतृक संपत्ति के रूप में हुसैन की पेंटिंग मिली थी और उन्होंने इसका जिक्र आयकर रिटर्न में किया है कि उनको इसके लिए दो करोड़ रुपये की राशि चेक के माध्यम से मिली थी।’’

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360